पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

वारदात:कोरोनाकाल में तंगी से बने अपराधी, कार पर फर्जी नंबर प्लेट लगा लूट की, धरे गए दो युवक

शाहजहांपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में आरोपी।
  • 14 सितंबर को शाहजहांपुर में हुई 85 हजार की लूट झूठी निकली, 2 शिकायतकर्ता भी गिरफ्तार

कोरोनाकाल में आर्थिक तंगी के चलते दो युवक अपराध की दुनिया में उतर गए, लेकिन पहली ही वारदात में पुलिस के हत्थे चढ़ गए। इतना ही नहीं पीड़ित पिकअप चालक व खलासी ने भी पुलिस को लूट की झूठी कहानी गढ़ खूब छकाया, लेकिन पोल खुल गई। उन दोनों को भी गिरफ्तार किया गया है।

नीमराना डीएसपी लोकेश मीणा ने बताया कि 14 सितम्बर को रायपुर (बावल) निवासी दीपक पुत्र सत्यवीर यादव ने मामला दर्ज कराया था कि वह कोटपूतली से पिक‌अप में दूध लेकर आ रहा था। शाहजहांपुर टोल एक क्विड कार में सवार दो युवकों ने चेकिंग के बहाने उसे रोका और मारपीट कर 85 हजार रुपए लूट ले गए।

इस दौरान छीनाझपटी में पिकअप चालक दीपक ने हमलावरों की कार की चाबी छीन ली और कार की फोटो ले ली थी। हालांकि बदमाश चाबी वापस लेकर भाग गए। मामले की जांच में एएस‌आई हनुमान प्रसाद एवं सुनील कुमार ने पिकअप चालक की फोटो में दिखे नंबर की कार की तलाश की। यह भटेडी(नांगल चौधरी) निवासी अवतार सिंह के नाम पर निकली।

अवतार ने बताया कि गाड़ी सुनील फोगाट निवासी टीकांतला (चरखी दादरी) को दे रखी है। सुनील से पता चला कि कार उसके भाई सेना में नायब सूबेदार सतीश के पास हिसार में है। जांच में पता चला कि उक्त कार वारदात में इस्तेमाल ही नहीं हुई। इससे पहेली उलझ गई।
किस्त नहीं भर पा रहे थे तो वारदात करने लगे
डीएसपी लोकेश मीणा ने बताया की कोविड के चलते आरोपी दीपक उर्फ देशराज यादव अपनी गाडी की किस्त जमा नहीं करवा पा रहा था। उसने फाइनेंसरों से बचने के लिए कार पर फर्जी नम्बर प्लेट लगा ली थी। इसी के सहारे पुलिस को चकमा देने का प्लान बनाया।

फाइनेंस वालों को चकमा देने के लिए लगाई फर्जी नंबर प्लेट

पुलिस ने मुखबिरों से फोटो वाली कार की पहचान कराई तो पता चला कि यह दीपक उर्फ देशराज पुत्र रंगराव यादव निवासी अहीरों की ढाणी बावल (हरियाणा) की है और घटना के वक्त उसका साथी मनोज यादव पुत्र रामकिशन यादव निवासी बावल भी मौजूद था। दोनों से पूछताछ की गई। आरोपियों ने बताया कि कोरोनाकाल में तंगी के चलते हाइवे पर वाहनों को लूट की योजना बनाई। पुलिस को चकमा देने के लिए फर्जी नंबर प्लेट लगा ली। इसके बाद पिक‌अप चालक को निशाना बनाया। मगर उसके पास रुपए नहीं थे।

इस पर पुलिस ने शिकायतकर्ता पिकअप चालक व खलासी भरत सिंह से सच्चाई जाननी चाही मगर वे गुमराह करते रहे। उनकी बातों में फर्क मिला तो सख्ती से पूछताछ की गई। इसमें लूट की घटना झूठी बताई। इसके बाद दीपक उर्फ देशराज यादव एवं उसके साथी मनोज यादव तथा पुलिस को गुमराह करने के आरोप मे पीड़ित चालक दीपक पुत्र सत्यवीर एवं उसके खलासी भरत सिंह को भी गिरफ्तार कर लिया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें