पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सामाजिक समारोह:कोरोना का असर; नायब तहसीलदार ने बेटे की शादी तीन बार निरस्त की, चाैथी बार में 11 लाेगाें की मौजूदगी में हुई

चिड़ियावासा24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पिछले करीब डेढ़ साल से कोरोना संकटकाल है। लोगों को कई शादियां और सामाजिक समारोह निरस्त करने पड़े। कई शादियां तो कार्ड छपने के बाद भी निरस्त करनी पड़ी। ऐसा ही मामला बांसवाड़ा उपखंड कार्यालय में नायब तहसीलदार वनेश्वर पंड्या के घर का है। पंड्या ने कोरोना संक्रमण के कारण अपने पुत्र मनोज पंड्या की शादी तीन बार कार्ड छपने के बाद निरस्त कर दी। चौथी बार में रविवार को 11 सादगी के साथ दोनों परिवारों के मात्र 11 लोगों की मौजूदगी में शादी समीप गांव सेमलिया की अंशु पंड्या के साथ हुई।

मनोज मुंबई में कंप्यूटर इंजीनियर हैं। अंशु गढ़ी उपखंड में टीचर हैं। संक्रमण में औदीच्य ब्राह्मण समाज के चतुर्दश मंडल ने कोई भी आयोजन गाइडलाइन के अनुसार ही करने के लिए आह्वान किया था। समाज की अपील और गाइडलाइन को मानते हुए उन्होंने शादी समारोह सादगी से किया।

खबरें और भी हैं...