जयपुर SMS अस्पताल की टीम डूंगरपुर मेडिकल कॉलेज पहुंची:4 डॉक्टरों ने कोरोना की संभावित तीसरी लहर की तैयारियों का लिया जायजा,बच्चों के लिए 100 बेड का वार्ड और 22 बेड का SNCU तैयार

डूंगरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण करती टीम। - Dainik Bhaskar
ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण करती टीम।

जयपुर एसएमएस अस्पताल के चार डॉक्टरों की टीम आज डूंगरपुर पहुंची। मेडिकल कॉलेज का दौरा कर कोरोना की संभावित तीसरी लहर की तैयारियों का जायजा लिया। कोविड अस्पताल के बेड,आईसीयू,ऑक्सीजन,वेंटिलेटर समेत स्टाफ सुविधा के बारे में जानकारी ली। टीम ने ऑक्सीजन प्लांट सिस्टम, एमसीएच बिल्डिंग, जिला अस्पताल में आईसीयू वार्ड, मेडिकल यूनिट की व्यवस्थाओं को देखकर सराहना की।

वार्डों का निरीक्षण करती टीम।
वार्डों का निरीक्षण करती टीम।

305 बेड पर ऑटोमेटिक ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध
जयपुर एसएमएस अस्पताल के चार विशेषज्ञ डॉक्टर कैलाश मीणा,अभिषेक अग्रवाल,सुनील चौहान और नीता पाल की टीम बुधवार सुबह 10 बजे डूंगरपुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंची। मेडिकल कॉलेज प्रिसिंपल श्रीकांत असावा, अधीक्षक डॉ.महेंद्र डामोर से मुलाकात करते हुए कोविड की तैयारियों का जायजा लिया। कोविड अस्पताल के बेड, आईसीयू, ऑक्सीजन, वेंटिलेटर समेत स्टाफ सुविधा को देखा। अधीक्षक डॉ. महेंद्र डामोर ने बताया कि कोरोना की तीसरी लहर को लेकर 305 कोविड बेड समेत नॉन कोविड के 600 बेड है। जिसमें से 305 बेड पर ऑटोमेटिक ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध है। इसके अलावा आईसीयू के 42 बेड है और 43 वेंटिलेटर लगे हुए है।

कोरोना आईसीयू वार्ड का निरीक्षण करते हुए।
कोरोना आईसीयू वार्ड का निरीक्षण करते हुए।

टीम ने व्यवस्थाओं को सराहा
कोरोना की तीसरी संभावित लहर बच्चों को लेकर जताई जा रही है। ऐसे में बच्चों के 22 बेड का SNCU वार्ड तैयार है,जहां गंभीर बच्चों को भर्ती करने की सुविधा रहेगी। बच्चों के लिए 100 बेड का अलग से वार्ड भी तैयार है। जयपुर से आई टीम ने ऑक्सीजन प्लांट सिस्टम, एमसीएच बिल्डिंग, जिला अस्पताल में आईसीयू वार्ड, मेडिकल यूनिट की व्यवस्थाओं को देखकर तैयारी को अच्छा बताया। निरीक्षण के दौरान विशेषज्ञ डॉक्टरों ने व्यवस्थाओं को बेहतर बनाने के लिए प्रॉपर मॉनीटरिंग के निर्देश भी दिए।

खबरें और भी हैं...