पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लापरवाही:समाज कल्याण हाॅस्टल में 29 दिसंबर से अंधेरा लाइनमैन कनेक्शन काटने के बाद जाेड़ना भूला

डूंगरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बिजली के बिल की राशि जमा नहीं करवाई थी, जमा करवाने के बाद भी अंधेरे में

शहर से 10 किमी. दूर गैजी में स्थित समाज कल्याण के हाॅस्टल में डिस्काॅम के लाइनमैन की लापरवाही भारी पड़ रही है। इस हाॅस्टल में फिलहाल काेई बच्चे नहीं रह रहे है लेकिन हाॅस्टल के अंदर कई फर्नीचर सहित लाखाें रुपए का सामान पड़ा हुआ है।

ऐसे में हाॅस्टल में पिछले सात दिनाें से बिजली का कनेक्शन काटा हुआ है। बिजली के बिल भरने में देरी हाेने के कारण लाइनमैन ने अपनी धाैंस दिखाते हुए 28 दिसंबर से कनेक्शन काट दिया है।इसके बाद वार्डन ने अपनी व्यवस्था से बिजली का बिल 29 दिसंबर काे भर दिया है। इसके बावजूद अभी तक कनेक्शन जाेड़ने के लिए लाइनमैन तैयार नहीं हुआ है। इसके कारण पिछले सात दिनाें से अंधेरे में पूरा हाॅस्टल है। विशेषकर रात के समय सबसे ज्यादा डर रहता है। इसकाे लेकर वार्डन ने कई बार लाइनमैन काे फाेन किया है। इसके बावजूद अभी तक लाइनमैन ने कनेक्शन नहीं जाेड़ा है।

वसूली के बीच सांमजस्य की कमी : डिस्काॅम में काेराेना काल में कई लाखाें की वसूली अटकी हुई है। इसकाे लेकर अभियान भी चल रहा है। ऐसे में बिल जमा हाेने के बाद उसकी रसीद बिल पर ही सील लगाकर दी जाती है। जिसके माध्यम से लाइनमैन या डिस्काॅम के जेईएन इसकी पुष्टि कर उपभाेक्ता काे राहत दे सकते है। बिजली के पाेल से कनेक्शन काटने और पुन: जाेड़ने का अधिकार भी लाइनमैन के पास हाेता है। ऐसी स्थिति में उपभाेक्ता के बिल जमा कराने के बावजूद कनेक्शन नहीं जाेड़ना लापरवाही काे दर्शाता है। वहीं डिस्काॅम के जेईएन की लापरवाही साफ दिखती है। जहां लाइनमैन की ओर से दिनभर में कनेक्शन काटने की लिस्ट में रिकवरी के आधार पर पुन: जाेड़ने की व्यवस्था हाेनी चाहिए। इससे लाेगाें काे दबाव के बाद राहत भी दी जा सके।

लाइनमैन की लापरवाही, जांच होगी :अहारी

गैजी समाज कल्याण हाॅस्टल के वार्डन हरीश मनात ने बताया की बाॅयज हाॅस्टल का अक्टूबर-नवंबर का बिल 11020 रुपए आया था। इसे 18 दिसंबर तक जमा कराना अनिवार्य था। बिल में सरकारी सिस्टम में भुगतान हाेने की व्यवस्था के कारण लेट हाे गया। इस पर लाइनमैन सुरेश ने 28 दिसंबर काे बगैर पूछे बिजली के पाेल से वाॅयर काटकर कनेक्शन काट दिया। इसके बाद स्वयं के खर्चे से 29 दिसंबर काे बिजली का बिल भर दिया गया। इस बिजली के बिल की राशि की जमा रसीद लाइनमैन सुरेश काे दिखाने के बावजूद उसे 7 जनवरी तक अभी तक बिजली कनेक्शन वापस नहीं जाेडा है।

हर बार अधिकारियाें की ओर से जमा की लिस्ट आने के बाद ही जाेड़ने के बात कह कर टाल देता है। इसके कारण पिछले कई दिनाें से पूरा हाॅस्टल अंधेरे में है। विशेषकर रात के समय जंगल क्षेत्र हाेने के कारण जहरीले जानवर और समाजकंटक का भय बना रहता है। हाॅस्टल में भी फिलहाल फर्नीचर, रसद सामग्री, बर्तन सहित कई प्रकार का लाखाें का सामान भी है। ऐसे में इसके चाेरी हाेने का भय बना हुआ है।

हाॅस्टल का बिल बाकी था ताे कनेक्शन काटा था। अब अगर बिल जमा हाे गया है ताे कनेक्शन जाेड़ देना चाहिए। अभी तक लाइनमैन ने कनेक्शन नहीं जाेडा है ताे यह गलत है। : राजेंद्र अहारी, जेईएन गैजी-झाैथरी क्षेत्र डूंगरपुर।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें