पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बच्चों के पास आ गया 10 फीट लंबा अजगर:घर के आंगन में खेल रहे बच्चों ने देखा तो शोर मचाया, स्नेक कैचर ने 1 घंटे की मशक्कत के बाद रेस्क्यू कर जंगल में छोड़ा

डूंगरपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
खड़गदा गांव के युवा ने पकड़ा अजगर। - Dainik Bhaskar
खड़गदा गांव के युवा ने पकड़ा अजगर।

घर के आंगन में बच्चे मस्ती से खेल रहे थे, लेकिन बच्चों की यह मौज-मस्ती पलभर में उस वक्त गायब हो गई, जब उन्होंने घर के आंगन में 10 फीट का लंबा अजगर देखा। बच्चे डर के मारे चिल्लाने लगे और कमरों में घुस गए। इसके बाद घर वालों ने गांव के ही एक सांप पकड़ने वाले को बुलाया। जिसने एक घंटे की मशक्कत के बाद अजगर को पकड़कर जंगल में छोड़ दिया। मामला जिले की खड़गदा पंचायत के धरमोत फला गांव का है।

धरमोत फला निवासी रमेश के घर के बाहर आंगन में कुछ बच्चे खेल रहे थे। बच्चे अपने खेल में मशगूल थे। इसी दौरान एक बच्चा सांप कहकर चिल्लाया तो दूसरे बच्चों में सनसनी फैल गई। बच्चों ने एक बार तो उसे देखा बहुत बड़े सांप के देखकर डर गए जब घर के बड़े लोग पहुंचे तो घर के आंगन में आये। 10 फीट लंबे और बड़े अजगर के कारण वे भी अचंभित हो गए। इसके बाद गांव के लोग मौके पर एकत्रित हो गए।

हर कोई घर के आंगन में अजगर को देखकर हैरान था। मौजूद लोगों में कोई भी इस अजगर को भगा पाने की हिम्मत नहीं दिखा पाया तो गांव के ही स्नैक कैचर हरेश दवे को बुलाया गया। स्नैक कैचर करीब घंटेभर की मशक्कत के बाद अजगर को पकड़ा। इसके बाद गांव के लोगों ने राहत की सांस ली।

खेतों में नजर आते है अधिकतर सांप और जानवर
गांव के लोगों का कहना था कि बारिश के मौसम में सांप और अन्य जीव अपने बिल से बाहर निकल आते हैं। बिलों में पानी भर जाने के कारण वे खेतों में अक्सर नजर आते हैं। कई बार अजगर भी नजर आया है, लेकिन अजगर के घर के आंगन में आ जाने से बच्चों के लिए खतरा बताया जा रहा है। गांव के लोगों का कहना है कि आसपास वन विभाग की ओर से कोई स्नैक कैचर नहीं होने से गांव के सांप व अन्य जानवर का रेस्क्यू करने वाले युवाओं को बुलाकर पकड़ते हैं फिर जंगल में छोड़ देते हैं।

खबरें और भी हैं...