सोम नदी में मिला महिला का शव:30 साल से आसपुर व आस-पास के गांवों में घूमकर भीख मांगकर भर रही थी पेट,मानसिक रूप से थी परेशान

डूंगरपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
आसपुर असपताल के मोर्चरी के बाहर एकत्रित लोग। - Dainik Bhaskar
आसपुर असपताल के मोर्चरी के बाहर एकत्रित लोग।

मानसिक रूप से विक्षिप्त महिला का मंगलवार को सोम नदी में शव मिला। महिला 30 सालों से आसपुर व आसपास के गांवों में घूम-फिरकर मांगकर अपना पेट भरती थी। महिला के 2 बेटो में से 1 बेटा भी मानसिक रूप से विक्षिप्त है। टोंकवासा पंचायत के सरपंच सोमा भाई ने बताया कि मंगलवार सुबह गोल गांव के पास सोम नदी में पुलिया के नीचे महिला का शव दिखा। इस पर पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों की मदद से शव को नदी से बाहर निकाला। महिला की पानी में डूबने से मौत हो गई थी। शव की पहचान कंकु यादव (65) निवासी टोंकवासा के रूप में की गई। इसके बाद शव को आसपुर अस्पताल के मोर्चरी में रखवाया गया।

नदी में तैरता मिला महिला का शव
नदी में तैरता मिला महिला का शव

पति की मौत के बाद से गांव में पागलों की तरह घूमती रहती
सरपंच ने बताया कि महिला के पति खेमजी यादव की 40 साल पहले मौत हो गई थी। महिला के 2 बेटे है, जिसमें बड़ा बेटा लक्ष्मण यादव (40) मजदूरी करता है। छोटा बेटा नारायण यादव (38) भी मानसिक रूप से विक्षिप्त है। पति की मौत के बाद से पत्नी घर से निकलकर आसपुर व आसपास के गांवों में घूमती-फिरती रहती थी। घरों से जो कुछ खाने को मिल जाता,उसी से अपना गुजारा चला रही थी। महिला के बेटों की आर्थिक स्थिति भी कमजोर थी। जिस कारण मुश्किल से गुजारा चलता था। पुलिस ने शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया है। मामले में जांच की जा रही है।

खबरें और भी हैं...