• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Banswara
  • Dungarpur
  • For The First Time On Diwali, The Tableau Of Shri Ram Darbar Came Out With Music, The Crowd Was So Much That It Took 4 Hours To Complete The Distance Of 500 Meters.

अयोध्या सा उल्लास:पहली बार दिवाली पर गाजे-बाजे के साथ निकली श्रीराम दरबार की झांकी,भीड़ इतनी कि 500 मीटर दूरी को पूरा करने में लगे 4 घंटे

डूंगरपुर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दिवाली पर रोशन शहर - Dainik Bhaskar
दिवाली पर रोशन शहर

डूंगरपुर शहर में दिवाली पर पहली बार भगवान श्रीराम, माता जानकी, भ्राता लक्ष्मण और भक्त हनुमान की जीवंत झांकी निकाली गई। तहसील चौराहा स्थित राजाजी की छतरी से गेपसागर पाल तक हजारों शहरवासी इनकी अगुवानी में उमड़ पड़े। राजस्थानी कलाकारों का ग्रुप पारंपरिक वाद्ययंत्रों पर नृत्य करते हुए शोभायात्रा के आगे चला, वहीं सभापति अमृत कलासुआ, उपसभापति सुदर्शन जैन, समस्त पार्षद, भाजपा नेता, पदाधिकारी व शहरवासी शोभायात्रा के आगे-आगे पुष्पवर्षा करते हुए चले।

शोभायात्रा तहसील चौराहे से शाम करीब 7.30 बजे शुरू हुई और गेपसागर पाल पर करीब 11.30 बजे पहुंची। यानी करीब 500 मीटर की दूरी को तय करने में 4 घंटे लग गए। गेपसागर पाल पर नगर परिषद की ओर से शहरवासियों के मनोरंजन के लिए बुलाए राजस्थानी कलाकारों ने पारंपरिक नृत्यों से सभी का मन मोहा वहीं टॉल मैन, बौना मैन, जोकर व अन्य कलाकारों ने बच्चों के साथ-साथ सभी उम्र के लोगों का भरपूर मनोरंजन किया। सांस्कृतिक आयोजनों के साथ ही इस बार के आतिशी नजारे भी काफी खास रहे।

इस बार की दीवाली को खास बनाने के लिए नगर परिषद ने रंगरंग कार्यक्रम के तहत 30 सदस्यी कलाकारों के दल को आमंत्रित किया।

इन्होंने दी रंगारंग प्रस्तुति

{रंगारंग प्रस्तुति देने के लिए कलाकार जयपुर, जैसलमेर और बीकानेर से आए। इन कलाकारों की ओर से राजस्थान के पारंपरिक नृत्य, मांड गायन और वाद्ययंत्रों के साथ प्रस्तुतियां दी गई।

खबरें और भी हैं...