डूंगरपुर में 24 नए कोरोना पॉजिटिव,:इनमें 17 लोग अहमदाबाद व उदयपुर में समारोह से लाैटे, यहां कई लाेगाें के संपर्क में भी आए

डूंगरपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आईसीयू में वेंटीलेटर की सफाई करते स्टाफ। - Dainik Bhaskar
आईसीयू में वेंटीलेटर की सफाई करते स्टाफ।

शहर का आजाद नगर जीरो मोबिलिटी जोन घोषित
तीसरी लहर के कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। शुक्रवार को 24 नए पॉजिटिव केस मिले हैं। इनमें 6 संक्रमित डूंगरपुर शहर से हैं, 4 सागवाड़ा से अन्य डूंगरपुर ग्रामीण व अन्य दूसरे गांवों से हैं। संक्रमितों मेंं से 17 लाेगाें अहमदाबाद, उदयपुर आदि स्थानों पर समारोहों में शामिल हाेकर लाैटे हैं। यहां अाने के बाद भी अनेक लाेगाें के संपर्क में अाए। जिले में कुल 55 संक्रमित हो चुके हैं। मेडिकल कॉलेज लैब से जारी 99 सैंपल की रिपोर्ट में 8 लोग पॉजिटिव आए हैं।

संक्रमितों में डूंगरपुर शहर के आजाद नगर से 26 साल का युवक, सुभाष नगर से 27 साल का युवक, शिवाजी नगर से 73 साल का बुजुर्ग और 65 साल का बुजुर्ग, पत्रकार कॉलोनी से 67 साल का बुजुर्ग और एक 46 साल का युवक पॉजिटिव है। दामड़ी से 32 साल का युवक और शिशोद से 30 साल का युवक पॉजिटिव है।

सीएमएचओ डॉ. राजेश शर्मा ने मरीजों के परिवार के सभी लोगों को भी होम आइसोलेट किया जा रहा है। परिवार के लोगों की भी सैंपलिंग काराई जाएगी। एसडीएम मणिलाल तीरगर ने शहर के आजाद नगर में बोस्टन स्कूल के सामने वाली गली से मकान नंबर 98 तक की गली में जीरो मोबिलिटी क्षेत्र घोषित किया है। इस क्षेत्र में लोगों के आवागमन पर प्रतिबंध रहेगा। बता दें, इस क्षेत्र में एक ही गली में तीन संक्रमित मिलने पर जीरो मोबिलिटी क्षेत्र घोषित किया है।

नए संक्रमितों में एक शिशोद बिछीवाड़ा से, एक दामड़ी से व 6 मरीज डूंगरपुर शहर के आजाद नगर, पत्रकार कॉलोनी, शिवाजी नगर व सुभाषनगर से हैं, सागवाड़ा से 4 व डूंगरपुर के ग्रामीण क्षेत्रों से 4, अब जिले में कुल 55 संक्रमित

लॉकडाउन के भय से मुंबई से लाैटने लगे प्रवासी
काेराेना संक्रमितों की संख्या फिर से बढ़ते देख लॉकडाउन लगने के भय से प्रवासी वापस डूंगरपुर लाैटने लगे हैं। क्योंकि उन्हें भय है कि फिर से लॉकडाउन लगेगा। एेसे में डूंगरपुर में कम्यूनिटी स्प्रेड का खतरा बढ़ गया है। क्योंकि अब मुंबई में रोजगाररत प्रवासियों का डूंगरपुर आ रहे हैं। गुजरात, महाराष्ट्र व मध्यप्रदेश सहित अन्य राज्य में जिले के करीब 2 लाख लोगों रोजगाररत हैं। गुरुवार रात को काफी संख्या में प्रवासी मुंबई के कुर्ला में लोकमान्य तिलक टर्मिनस रेलवे स्टेशन सहित अन्य रेलवे स्टेशनों पर पहुंच गए, लेकिन पुलिस ने इनको रेलवे स्टेशन के अंदर प्रवेश नहीं करने दिया। शुक्रवार सुबह इनको प्रवेश दिया और इन्होंने ट्रेनों से वापसी शुरू कर दी है।

संक्रमण बढ़ते देख मेडिकल कॉलेज के कोविड अस्पताल में मरीजों को भर्ती करने के लिए शुक्रवार को करीब 8 माह बाद झाडू़ लगाते हुए साफ-सफाई शुरू कर दी है। शाम तक आइसोलेशन वार्ड, पॉजिटिव वार्ड में सफाई कर तैयार कर दिया। सभी वेंटीलेटरों को चालू करते हुए ऑक्सीजन प्रेशर आदि की जांच की। अधीक्षक डॉ. महेंद्र डामोर ने बताया कि कोविड अस्पताल में 305 ऑक्सीजन बेड, 43 बेड का आईसीयू वार्ड, बच्चों के लिए 10 बेड का एनआईसीयू, 70 बेड का आइसोलेशन वार्ड तैयार है। 30 बेड का पीआईसीयू का काम चल रहा है, 10 दिन में तैयार हो जाएगा।

अब यह करेंगे : गुजरात-राजस्थान सीमा के रतनपुर बॉर्डर पर आज से स्क्रीनिंग के बाद ही मिलेगा प्रवेश। डूंगरपुर में प्रवेश के अन्य रास्तों पर भी पुलिस व मेडिकल टीमों को लगाया।

मांगा सहयोग : मेडिकल टीमें बच्चों और अन्य उम्र वर्ग के वैक्सीनेशन में व्यस्त है, ऐसे में जिले के सभी सरपंच और अन्य जनप्रतिनिधियों से प्रवासियों के घर लौटते ही उनकी सैंपलिंग में मांगा सहयोग।

गुरुवार रात को मुंबई के कुर्ला में लोकमान्य तिलक टर्मिनस पर घर वापसी के लिए बढ़ती लोगों की भीड़। (इनसेट) रेलवे स्टेशन के बाहर बैठा युवक।

खबरें और भी हैं...