आंदोलन करने की दी चेतावनी:नहर कार्य में गुणवत्ताहीन हो रहा है कार्य, किसानों ने जताया आक्रोश

पूंजपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बैठक में मौजूद जनप्रतिनिधि एवं विभागीय अधिकारी। - Dainik Bhaskar
बैठक में मौजूद जनप्रतिनिधि एवं विभागीय अधिकारी।
  • बैठक }पुंजेला बांध पर जल वितरण कमेटी व जायका अधिकारियों की ग्रामीणों के साथ बैठक

जल संसाधन विभाग के पुंजेला बांध पर जल वितरण कमेटी एवं जायका अधिकारियों की बैठक जायका के रिजवल मैनेजमेंट एक्सपर्ट अशोक भारद्वाज, जल संसाधन विभाग के सहायक अभियंता दिनेश पाटीदार, वासुदेव सरगडा जल वितरण कमेटी के अध्यक्ष प्रभुलाल त्रिवेदी के आतिथ्य में हुई। इसमें जल वितरण कमेटी के चुनाव एवं विभागीय योजनाओं की जानकारी को लेकर किसानों की कार्यशाला आयोजित करने पर चर्चा की गई।

बैठक में पुंजेला बांध की एनएमसी व आरएमसी नहर में कार्य की गुणवत्ता को लेकर काश्तकारों ने आक्रोश व्यक्त किया गया। काश्तकारों ने जायका अधिकारियों को कहा कि कार्यस्थल पर रेती व सीमेंट सही अनुपात में नहीं मिलाए जा रहे हैं।

चुनाव प्रक्रिया भी किसानों के माथे पर

जल संसाधन विभाग के अधीन पुंजेला, बोडिगामा, गलियाना, कांठडी बांध की जल वितरण कमेटी के चुनाव वर्ष 2013 में हुए थे। कमेटी का कार्यकाल 5 वर्ष का रहता है। ऐसे में दो वर्ष से कोरोना संक्रमण के चलते चुनाव नहीं हो पाए थे। इस माह में पूंजेला व गलियाना बांध की कमेटी के चुनाव होने हैं। ऐसे में बैठक में चुनाव को लेकर चर्चा हुई जिसमें वर्ष 2008 की मतदाता सूची के आधार पर चुनाव कराए जा रहे हैं।

जबकि काश्तकारों ने मांग की है कि नई मतदाता सूची बनाकर चुनाव कराए जाएं। विभाग ने मतदाता सूची में नए नाम जोडऩे के लिए किसानों को ही जिम्मेदारी दी है। ऐसे में किसानों ने यह प्रक्रिया विभाग द्वारा पूर्ण करने की मांग उठाई है। समस्या का समाधान नहीं होने पर चुनावों का बहिष्कार करने की चेतावनी दी गई है।

खबरें और भी हैं...