पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

शिक्षक भर्ती 2018:सहस्त्र बड़ी औदीच्य ब्राह्मण समाज ने की रिक्त पदों को सामान्य वर्ग से भरने की मांग

सागवाड़ा4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • रीट परीक्षा में 36 फीसदी उत्तीर्ण अंक का लाभ देकर इन पदों पर नियुक्ति देने की मांग

सहस्त्र बड़ी औदीच्य ब्राह्मण दस गांव संस्थान टामटिया चौखला की ओर से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देकर 2018 शिक्षक भर्ती में रिक्त रहे अनारक्षित वर्ग के 1167 पदों को सामान्य वर्ग से भरने की मांग की। दस गांव संगठन के अध्यक्ष जगदीश जोशी और महामंत्री चिराग मेहता के नेतृत्व में एसडीएम राजीव द्विवेदी, सांसद कनकमल कटारा और निवर्तमान कांग्रेस जिला अध्यक्ष दिनेश खोड़निया को ज्ञापन दिए। जिसमे शिक्षक भर्ती

2018 के तहत टीएसपी क्षेत्र के रिक्त1167 पदों को अनारक्षित सामान्य वर्ग से ही भरने की मांग की। अनारक्षित पदों को एसटी वर्ग के अभ्यर्थियों से भरने की मांग को अनुचित ठहराया है। ज्ञापन में बताया कि हाईकोर्ट की डबल बेंच ने अनारक्षित रिक्त पदों को सामान्य वर्ग से ही भरने का फैसला दिया है। ऐसे में यदि राज्य सरकार हाईकोर्ट के फैसले के विरोध में इन पदों को आरक्षित एसटी वर्ग के अभ्यर्थियों से भरती है तो ये टीएसपी

क्षेत्र के सामान्य वर्ग के साथ अन्याय होगा। इस अवसर पर समाज के पूर्व अध्यक्ष कांति शंकर उपाध्याय, सुरेश मेहता, पुरुषोत्तम पंड्या, किशोर मेहता भीलूड़ा, प्रकाश भट्ट घोटाद, पवनेश जोशी कोकपुर,नीलेश दवे, रजत दवे व विकास दवे ओबरी, भोगीलाल उपाध्याय गामड़ा व अशोक मेहता सहित दस गांवों के प्रतिनिधि मौजूद थे। राज्यपाल की उपयोजना क्षेत्र के लिए विशेष अधिसूचना, लेकिन भर्ती में बड़ी विसंगति: इसी तरह सहस्त्र बड़ी औदिच्य ब्राह्मण समाज नंदौड के प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री के नाम दिए ज्ञापन में बताया

कि राज्यपाल ने 4 जुलाई 2016 को उपयोजना क्षेत्र के लिए विशेष अधिसूचना लागू की थी। इसके तहत यहां होने वाली सभी भर्तियों के लिए विशेष प्रावधान किए गए थे। जिसमे सरकारी भर्तियों में 45 % एसटी और शेष 50 फीसदी सीट अनारक्षित घोषित कर स्थानीय टीएसपी क्षेत्र के लिए रिजर्व की। लेकिन शिक्षक भर्ती 2018 में बड़ी विसंगति सामने आई है। टीएसपी क्षेत्र के एसटी वर्ग के लिए 36% पूर्णांक रखा गया जबकि शेष वर्गों एससी, अल्पसंख्यक, ओबीसी एवं सामान्य वर्ग के लिए प्रदेश के अन्य जिलों के समान 60 फीसदी ही रखा गया है। ऐसे में यहां सामान्य वर्ग के अभ्यर्थी रीट परीक्षा में पिछड़ रहे हैं। इस कारण से अनारक्षित वर्ग के

1167 पद खाली रह गए। क्योंकि यह सीटें 60 फीसदी अंक प्राप्त वाले अभ्यर्थियों से भरी जानी प्रस्तावित है, परंतु अनारक्षित वर्ग की सीटों पर आरक्षित वर्ग के 36 फीसदी अंक वाले अभ्यर्थी दावा प्रस्तुत कर रहे हैं। जो सरासर गलत है। प्रतिनिधि मंडल ने अधिसूचना को आधार बनाते हुए जिस प्रकार टीएसपी में एसटी वर्गों को 36% अंक का लाभ दिया है उसी प्रकार यहां के शैक्षिक, सामाजिक एवं आर्थिक रूप से पिछड़े सामान्य वर्ग

सहित सभी वर्गों को समान अवसर देते हुए रीट परीक्षा में 36 फीसदी

उत्तीर्ण अंक का लाभ देकर बची हुई 1167 सीटों पर सभी वर्ग के अभ्यर्थियों को नियुक्तियां देने की मांग की। जिसके लिए दिनेश खोडनिया को भी ज्ञापन दिया। समाज के अध्यक्ष प्रमोद भट्ट, दिनेश भट्ट, हेमेंद्र भट्ट, कन्हैयालाल भट्ट, सुरेश भट्ट, शैलेश भट्ट, हेमेंद्र डी भट्ट, सुधीर भट्ट, गणेश मेहता मौजूद थे।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें