फिल्ड टेस्ट किट से पेयजल गुणवत्ता की जांच का प्रशिक्षण:छः ग्राम पंचायत मेताली, पालवड़ा, पाल देवल, पालगामड़ी, पगारा एवं माथुगामड़ा पाल शामिल

डूंगरपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भास्कर संवाददाता|डूंगरपुर जल जीवन मिशन के तहत फिल्ड टेस्ट किट के माध्यम से जिले की समस्त ग्राम पंचायतों की ग्राम जल स्वच्छता समिति के सदस्यों को पेयजल गुणवत्ता की जांच का प्रशिक्षण आयोजित किया गया। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिक विभाग के सहायक अभियंता शंकरलाल रोत ने बताया कि पंचायत समिति डूंगरपुर के सभागार में गुरुवार को ब्लॉक डूंगरपुर की छः ग्राम पंचायत मेताली, पालवड़ा, पाल देवल, पालगामड़ी, पगारा एवं माथुगामड़ा पाल की ग्राम जल स्वच्छता समिति के महिला सदस्य, एएनएम, आशा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, शिक्षिका, ग्राम विकास अधिकारी को एफटीके के माध्यम से पेयजल की भौतिक, रसायनिक व जीवाणु जांच करने का प्रशिक्षण पीएचईडी जिला प्रयोगशाला के वरिष्ठ सहायक प्रकाशचन्द्र दायमा के द्धारा व पेयजल स्त्रोतों के स्वच्छता सर्वेक्षण की जानकारी प्रयोगशाला सहायक चंदूलाल कटारा के द्वारा प्रदान की गई। उन्होंने बताया कि जिला कॉडिर्नेटर शैलेन्द्र कुमार सोलंकी ने सभी प्रशिक्षणार्थियों को जल जीवन मिशन एप मोबाइल पर डाउनलोड करा कर उनका रजिस्ट्रेशन कराया गया। एफटीके से जांचे गए जल नमूनों के परिणाम जेजेएफ-डब्ल्यूक्यूएमआईएस वेबसाईट पर ऑनलाइन करने की जानकारी प्रदान की गई।

उन्होंने बताया कि जेजेएम कार्यक्रम के बारे में विस्तृत जानकारी एचआरडी कन्सलटेन्ट गोपाल सिंह गहलोत, आईईसी कन्सलटेन्ट योगेन्द्र फुलवारी, एमआईएस कन्सलटेन्ट हर्षवर्धन पंचाल ने प्रदान की। प्रशिक्षण कार्यक्रम के बाद ग्राम विकास अधिकारियों को एफटीके का वितरण सहायक अभियंता, पीएचईडी जिला उपखण्ड डूंगरपुर के शंकरलाल रोत, कनिष्ठ अभियंता ने किया।

खबरें और भी हैं...