आजमन को सुरक्षा देने वाली पुलिस खुद असुरक्षित:एसपी ऑफिस खंडहर घोषित,छत से प्लास्टर व दीवारों से टपकता पानी,पीडब्ल्यूडी ने भवन को बताया असुरक्षित100 से ज्यादा पुलिसकर्मी ऑफिस में बैठते

डूंगरपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
क्षतिग्रस्त छत के नीचे काम करते पुलिसकर्मी। - Dainik Bhaskar
क्षतिग्रस्त छत के नीचे काम करते पुलिसकर्मी।

डूंगरपुर जिला कलेक्ट्रेट भवन में लोगों को सुरक्षा देने वाली पुलिस खुद असुरक्षित है। ऊपरी मंजिल पर बने एसपी ऑफिस को पीडब्ल्यूडी ने खंडहर घोषित कर दिया है। 15 जुलाई 1955 को इसका निर्माण करवाया गया था। अब छत से गिरते प्लास्टर और दीवारों से टपकते पानी ने एसपी, एएसपी, डीएसपी समेत 100 से ज्यादा पुलिस जवानों की जान को खतरे में डाल दिया है। एसपी सुधीर जोशी ने ऑफिस के खंडहर भवन की सूचना पुलिस मुख्यालय को भेज दी है। अब विभाग नए भवन की तलाश कर रहा है।

पीडब्ल्यूडी ने माना,जर्जर हालत में है भवन
दो मंजिला भवन की ऊपरी मंजिल पर पुलिस अधीक्षक कार्यालय समेत एएसपी, डीएसपी, साइबर सेल, अभय कमांड ऑफिस, अपराध शाखा, बल शाखा, स्थापना शाखा और पुलिस विभाग के कई कार्यालय चल रहे है। अब यह भवन खंडहर और जर्जरहाल घोषित कर दिया गया है। भवन में अब बैठने की स्थिति नहीं है। खासकर बारिश के मौसम में जर्जर हाल भवन में बैठना हादसे को निमंत्रण देने के समान है।

सार्वजनिक लोक निर्माण विभाग के एक्सईएन जितेंद्र कुमार जैन ने बताया कि पिछले महीने जिला पुलिस अधीक्षक ने एसपी ऑफिस समेत सभी कार्यालयों के भवन की स्थिति का आंकलन करने के लिए पीडब्ल्यूडी को पत्र लिखा था। इसके बाद तीन इंजीनियरों की टीम का गठन किया गया था। इंजीनियरों ने भवन की स्थिति को देखा और अपनी रिपोर्ट में भवन को असुरक्षित बताया है।

एसपी समेत 100 से ज्यादा अधिकारी व कर्मचारी खंडहर भवन में बैठने को मजबूर
खंडहर भवन में एसपी सुधीर जोशी, एएसपी अनिल मीणा, डीएसपी मनोज सामरिया समेत 100 से ज्यादा अधिकारी व कर्मचारी बैठते हैं। इसके अलावा जिले के प्रमुख अभय कमांड सेंटर भी इसी में है। जहां लाखों के उपकरण है। साइबर सेल भी एसपी ऑफिस के ठीक सामने कमरे में संचालित है।

एसपी कार्यालय का बरामद
एसपी कार्यालय का बरामद

छत से गिरता है प्लास्टर, दीवारों में सीलन
भवन की दीवारों और छत की हालत इतनी खराब है कि छत का प्लास्टर उखड़कर नीचे गिर रहा है। जिससे सरिए निकल गए है। कई बार बारिश में मलबा फर्श पर गिर जाता है। बारिश का पानी टपकने से फर्नीचर,उपकरण खराब हो गए हैं। हालांकि भवन की कई बार मरम्मत भी कार्रवाई गई, लेकिन अब पूरी तरह से जर्जर हो चुका है।

नए भवन की तलाश
पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों का कहना है कि एसपी ऑफिस के भवन की छत पूरी कमजोर हो गई है। लोहे के सरिए निकल आए हैं। प्लास्टर करने के बाद भी मलबा गिर रहा है।। ऐसे में एसपी ऑफिस को कहीं और शिफ्ट किया जाए या फिर ऊपरी बिल्डिंग को गिराकर नया निर्माण करना होगा। एसपी सुधीर जोशी ने बताया कि नए भवन की तलाश कर रहे है। एसपी ऑफिस के खंडहर भवन की सूचना पुलिस मुख्यालय को भेज दी गई है।

खबरें और भी हैं...