पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

साइबर क्राइम:उपभोक्ता के पास बिना ओटीपी आए बैंक खाते से निकाले रुपए

डूंगरपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • डेबिट कार्ड के साथ क्रेडिट कार्ड खाते में साइबर ठग लगा रहे सेंध, फर्जी चेकबुक बनाकर दूसरे राज्य में खाते से निकले रुपए

अचानक आपके मोबाइल पर एक एसएमएस आता है और पता चलता है कि आपके खाते से राशि निकल गई है या फिर आप बैंक खाते से रुपए निकालने जाए तो पता लगता है कि आपके खाते से तो राशि नहीं है। डिजिटल बैकिंग के इस दौर में साइबर ठग सीधे बैंक अकाउंट में सेंध लगा रहे हैं।

डूंगरपुर जिले में हाल ही में कुछ ऐसे मामले सामने आए है इसमें बिना ओटीपी शेयर किए खाते से राशि कट रही है। ऐसे में लोगों को सीधे नुकसान झेलना पड़ रहा है। बदलते समय के साथ साइबर क्राइम सबसे बड़ी चुनौती बन गया है। डेबिट कार्ड के साथ अब क्रेडिट कार्ड में सेंध लग रही है। पीड़ितों का सवाल है कि बिना ओटीपी दिए खाते से कैसे नकदी निकलर, हालांकि पुलिस को रिपोर्ट देकर कार्यवाही की मांग की गई है। बताया जा रहा कि कई पीड़ित प्रतिष्ठा के चलते पुलिस के सामने नहीं आ पा रहे हैं।

फ्रॉड का यह तरीका भी एकदम अलग, खाता यहां और डूप्लीकेट चेक से दूसरे राज्य में उठ गए 92 हजार : देवला ग्राम पंचायत की चेक बुक 24 सिंतबर को पोस्ट ऑफिस के जरिए प्राप्त हुई। चेक बुक जारी होने से पहले ही अज्ञात व्यक्ति ने देवला पंचायत की डूप्लीकेट चेक बुक जारी करा ली। 16 सितंबर को 92 हजार पांच सौ रुपए उठा लिए। इसके बाद 94 हजार 700 रुपए का चेक भुगतान के लिए बैंक को भेजा गया। बैंक कर्मचारी की तरफ से अवगत कराने पर खाते को लॉक कराया गया। सरपंच व ग्राम विकास अधिकारी की फर्जी मोहर बनने के साथ फर्जी हस्ताक्षर कर 92 हजार उठा लिए। उत्तरप्रदेश राज्य की किसी शाखा के जरिए डूप्लीकेट चेक से भुगतान होना बताया जा रहा है।

सोशल मीडिया अकाउंट हैक करने के बढ़ रहे मामले : इन दिनों डूंगरपुर जिले में सोशल मीडिया अकाउंट हैक करने के मामले बढ़ते जा रहे हैं। यहां पर लोगों को मैसेज भेजकर बीमारी व परिस्थिति का हवाला देते हुए पांच हजार से 20 हजार रुपए तक की राशि मांगी जा रही है। कुछ लोग आवश्यकता को हकीकत समझ कर तुंरत रुपए जमा करा रहे हैं। कुछ लोग कॉल कर कुशलक्षेम पूछने का प्रयास करते है तो हकीकत सामने आती है। ऐसा कोई मैसेज नहीं भेजा गया। इस तरह के मामले भी पुलिस के सामने आए है।

पहला केस
बिना ओटीपी के निकाले 25 हजार रुपए

{शहर के शिवाजी नगर निवासी महर्षि व्यास के बैंक खाते से बिना किसी मैसेज व ओटीपी के 25 हजार रुपए अज्ञात व्यक्ति ने उड़ा लिए। तीन अक्टूबर की रात 12 बजे पांच-पांच हजार रुपए के क्रम में कुल 25 हजार रुपए किसी अन्य के खाते में ट्रांसफर हो गए। मोबाइल पर किसी प्रकार का कोई मैसेज नहीं आया। कोई ओटीपी या कॉल नहीं आया। खाते से पैसे कट गए। ऐसे में इस तरह के मामले भी परेशानी खड़े कर रहे हैं।

दूसरा केस
क्रेडिट कार्ड से निकाल दी राशि

{शहर निवासी एक व्यक्ति क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करता है। 16 अक्टूबर की शाम को क्रेडिट कार्ड से साढ़े तीन हजार रुपए की राशि दो बार में कट गई। राशि को निकालने से पहले किसी तरह का कोई ओटीपी मैसेज नहीं आया। इसके बाद सजगता दिखाते हुए तुरंत ही कार्ड ब्लॉक करवाया। पुलिस को मामले से अवगत कराया।

पुलिस ने कहा : संदिग्ध मेल खोलने से बचेें

किसी भी संदिग्ध मेल को खोलने से बचें और सोशल मैसेजिंग एप सहित अन्य दूसरे ऑनलाइन माध्यमों से आने वाली सूचनाएं और लिंक को बिना जांच-पड़ताल के न सर्च करें। पुलिस का कहना है कि सोशल मीडिया और बैंकिंग गतिविधियों के लिए मजबूत पासवर्ड और बहुस्तरीय विकल्प का उपयोग करें। किसी अंजान शख्स से फोन पर व्यक्तिगत डिटेल न साझा करें। साथ ही वक्त-वक्त पर अपना एटीएम का पासवर्ड भी बदलते रहें।

ऐसे बचें फ्राॅड से :

  • एटीएम या क्रेडिट कार्ड का पिन शेयर न करें।
  • किसी संदिग्ध वेबसाइट पर अपना बैंकिंग डिटेल डालने से बचें।
  • केवाइसी या किसी और बहाने से डिटेल मांगे जाने पर न दें।
  • मोबाइल पर आने वाले अनजान लिंक पर क्लिक न करें।
  • लाॅटरी और ईनाम के लालच वाले मेल और मैसेज को इग्नोर करें।
  • मोबाइल या ईमेल में महत्वपूर्ण बैंकिंग डाटा स्टोर न करें।

—ऑनलाइन बैंकिंग वेरिफाइड व विश्वसनीय वेबसाइटों पर ही करें।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें