बहू को डांटा तो बेटे ने पिता को मारा लट्‌ठ:पिता के सिर पर आए 12 टांके, गंभीर हालत में उदयपुर रेफर

बांसवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महात्मा गांधी राजकीय चिकित्सालय में बदिया का उपचार करता नर्सिंग स्टाफ। - Dainik Bhaskar
महात्मा गांधी राजकीय चिकित्सालय में बदिया का उपचार करता नर्सिंग स्टाफ।

ससुर का बहू को डांटना बेटे को बर्दाश्त नहीं हुआ तो उसने पिता के सिर पर लट्‌ठ से जानलेवा वार कर दिया। लट्ठ के एक ही वार से पिता ढेर होकर जमीन पर गिर गया। लहूलुहान पिता को अस्पताल पहुंचाने की बजाए बेटा भाग गया। बाद में उसका बड़ा भाई वहां पहुंचा और घायल पिता को महात्मा गांधी राजकीय चिकित्सालय पहुंचाया। यहां घायल के सिर पर 12 टांके लगा गए। इसके तुरंत बाद घायल को गंभीर बताते हुए उदयपुर रेफर किया गया।

मामला आंबापुरा थाना क्षेत्र के बदरेल गांव का है। यहां रहने वाला बदिया (50) पुत्र देवा मईड़ा दिवाली के एक दिन बाद शुक्रवार शाम को उसके छोटे बेटे सुखलाल के घर पर था। तभी खाने-पीने की किसी बात को लेकर बदिया ने उसकी बेटा-बहू को फटकार लगाई। यह बात बेटे सुखलाल को पसंद नहीं आई। उसने आवेश में आकर शराबी पिता बदिया की खोपड़ी में लट्‌ठ मार दिया।

बदिया यहां लट्‌ठ के एक ही वार ढेर होकर जमीन पर गिर गया। इसके बाद सुखलाल मौके से भाग गया। कुछ दूरी पर रहने वाले सुखलाल के बड़े भाई को इसकी जानकारी मिली। तब वह मां के साथ पिता को लेकर महात्मा गांधी राजकीय अस्पताल लाया। यहां ड्रेसिंग के बाद बिना देर लगाए चिकित्सक ने बदिया को उदयपुर रेफर किया। रात करीब 11 बजे एंबुलेंस उदयपुर को रवाना हुई। इधर, अब तक भी पुलिस को मामले की भनक नहीं है।