विसर्जन कार्यक्रम:मां त्रिपुरा के दरबार में पहुंचे 30 हजार श्रद्धालु, पदयात्रियों ने 551 फीट की पंचरंगी चुनरी चढ़ाई

तलवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिलेभर में बुधवार को मां के दरबार में हवन और धार्मिक अनुष्ठान हुए। कई जगह पर गरबे भी खेले गए। दुर्गा अष्टमी पर शक्तिपीठ और देवी मंदिरों में पूजा-अर्चना, दर्शन और धार्मिक अनुष्ठान हुए। त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में बुधवार सुबह 5 बजे मंगला आरती के बाद से ही माताजी की पूजा-अर्चना और दर्शन के लिए भक्तों का तांता लगना शुरू हो गया।

सुबह से रात तक 30 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने मां त्रिपुरा के दर्शन किए। त्रिपुरा सुंदरी मंदिर व्यवस्थापक मंडल, चौदह चौखरा पंचाल समाजजनों ने निज मंदिर समेत परिसर में छाया-पानी की व्यवस्था की।

नवमी पर आज महापूजा-गरबा विसर्जन कार्यक्रम

महाष्टमी पर सुबह 8 तलवाड़ा से गांधी मूर्ति से गाजे बाजे के साथ पदयात्री अनिल गांधी, सुरेश टेलर, भगवती जोशी समेत सैकड़ों भक्त 551 फीट लंबी पंचरंगी चुनरी लेकर त्रिपुरा सुंदरी पहुंचे और माताजी को चढ़ाई।

इसमें बच्चे, युवक-युवतियां, महिलाएं और पुरुष शामिल रहे। 551 फीट चुनरी लेकर जैसे ही भक्ता मंदिर पहुंचे, चुनरी को हाथ लगाकर सबने जयकारे लगाए। सुरेश टेलर ने बताया कि हर साल पचास फीट चुनरी बढ़ाई जाती है। पदयात्रियों का दिनेश पंचाल, अंबालाल, नटवरलाल, धूलजी, नारायणलाल पंचाल, राजेंद्र आदि ने अभिनंदन किया।

खबरें और भी हैं...