लापरवाही:आनंदपुरी के 49,गढ़ी के 23 स्कूल जर्जर, बारिश में ढहने की आशंका

बांसवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बांसवाड़ा. बागीदौरा क्षेत्र का एक जर्जर स्कूल भवन जो पिछले दिनों बारिश के दौरान ढह गया। - Dainik Bhaskar
बांसवाड़ा. बागीदौरा क्षेत्र का एक जर्जर स्कूल भवन जो पिछले दिनों बारिश के दौरान ढह गया।
  • जिला शिक्षा अधिकारी ने तीन साै स्कूलाें के जर्जर भवनाें की सूची साैंपी थी
  • जिला मुख्यालय पर स्थित कई सरकारी क्वार्टर्स व कार्यालय भवन जर्जर

जिले में भले ही तेज बारिश का दाैर शुरू नहीं हुआ है, लेकिन अब तक हुई बारिश से ही जर्जर हाे चुके सरकारी भवन कभी भी ढ़हने की स्थिति में हैं। खतरनाक स्थिति में पहुंच चुके इन भवनाें से बड़े हादसे का अंदेशा बना हुआ है। कलेक्टर ने एक साल पहले इन भवनाें काे ध्वस्त करने के लिए तीन सदस्यी कमेटी का गठन किया था। इसके बावजूद अधिकांश जर्जर भवन आज भी यथावत हैं।

मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी ने बांसवाड़ा जिले में स्थित तीन साै जर्जर स्कूल भवनाें की सूची जिला प्रशासन काे साैंपी थी। कलेक्टर के निर्देश पर इन स्कूल भवनाें का तकनीकी अधिकारियाें ने भाैतिक सत्यापन िकया। इनमें से आनंदपुरी क्षेत्र के 49 व गढ़ी क्षेत्र के 23 स्कूल भवनाेंं के कुछ कक्षाें काे असुरक्षित मानते हुए उपयाेग में लेने याेग्य नहीं पाया। बांसवाड़ा शहर में सामान्य प्रशासनिक विभाग के चतुर्थ श्रेणी के छह क्वार्टर।

इनमें क्वार्टर नंबर 56,57,58,59,60,74 गिराने याेग्य हैं। पांचवी श्रेणी के दाे आवास क्रमांक 5.2 व 5.36, छठी श्रेणी के सात, जिनमें क्वार्टर संख्या 1 से 7 तक के हैं। टीएडी विभाग के दाे, क्वार्टर नंबर 9 व 10, पुलिस लाइन के लाेअर सबओर्डिनेट क्वार्टर नंबर 115 व अपर सब ओर्डिनेट क्वार्टर नंबर 5, पाेस्ट ऑफिस के पीछे स्थित पुलिस विभाग का क्वार्टर नंबर 10 धवस्त करने याेग्य है।

इनके अलावा कंधारवाड़ी राजकीय सीनीयर सेकंडरी स्कूल, चंद्रपाेल गेट स्थित राजकीय गर्ल्स सीनीयर सैकंडरी स्कूल के प्रथम तल के पांच कमरे व सीढ़ियां, राजकीय शिक्षाकर्मी प्राथमिक विद्यालय पाडला गणेशीलाल के दाे कमरे व एक बरामदा। राजकीय सीनीयर सैकंडरी नगर स्कूल की लाइब्रेरी व हाॅल। पंचायत समिति, तलवाड़ा क्षेत्र का सभा भवन, कुक्कुट शाला, गेराज व स्टाेर। कृषि विभाग के सिविल लाइंस स्थित दाे नंबर क्वार्टर।

गढ़ी उपखंड क्षेत्र मेें तहसील कार्यालय स्थित एक कमरा, राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय माेर का एक कक्षा-कक्ष, राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय परतापुर के तीन कक्षा कक्ष, सावित्री बाई फूले कन्या छात्रावास में चाैकीदार आवास एवं वार्डन आवास। भीमराव अंबेडकर बालक छात्रावास,गढ़ी में चाैकीदार अावास, राजकीय आयुर्वेद भवन पीथापुरा व टीएडी आवासीय भवन,आनंदपुरी।

पिछले साल बारिश में कुशलगढ़ में समाज कल्याण विभाग के नाकारा पड़े एक समाज कल्याण विभाग के अनुपयाेगी पड़ा छात्रावास भवन ढह गया था। उस समय पास ही बकरियां चरा रहे दाे बालक बारिश से बचने के लिए इस छात्रावास भवन के नीचे खड़े थे। भवन ढ़हने से उसके मलबे के नीचे दबने से इन दाेनाें बालकाें की माैके पर ही माैत हाे गई थी।

इसके बाद जिला कलेक्टर ने सभी सरकारी विभागाें से ऐसे जर्जर हाे चुके भवनाें की सूची तैयार कराई थी। जर्जर भवनाें काे ढहाने के लिए तीन सदस्यी कमेटी का गठन किया था। कमेटी में कलेक्टर प्रतिनिधि के रूप में क्षेत्रिय एसडीएम, सार्वजनिक निर्माण विभाग के एक्सईएन व संबंधित विभाग का एक अधिकारी शामिल था।

खबरें और भी हैं...