XEN व AEN घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार:​​​​​​​ एनिकट निर्माण राशि के बदले में 45-45 हजार कमीशन मांगा, वाटर शेड डिपार्टमेंट का मामला

बांसवाड़ा2 महीने पहले
ACB की कार्रवाई में पकड़े गए घूसखोर XEN और AEN

ACB ने वाटर शेड (जल ग्रहण विकास एवं भू-सरंक्षण विभाग) डिपार्टमेंट के XEN और AEN को रिश्वत की 45-45 हजार रुपए राशि के साथ रंगे हाथों गिरफ्तार किया। ये राशि एनिकट निर्माण के बदले में भुगतान किए गए पेमेंट के बदले में थी, जो सिक्योरिटी राशि अदा करने से पहले मांगी गई थी। इसमें SE, XEN, AEN से लेकर दो बाबू और अकाउंटेंट का हिस्सा शामिल है।

बांसवाड़ा ACB के ASP माधौसिंह सोढ़ा ने बताया कि 28 जून को परिवादी ने उनके कार्यालय में शिकायत की थी। सत्यपान के बाद ASP सोढ़ा के साथ उदयपुर ACB के DSP हेरंब जोशी और दिनेश सुखवाल की टीम ने कार्रवाई कर होटल माही गंगा से न्यू अशोक नगर थाना सुखेर हाल कुशलगढ़ XEN अभय जाखड़ और निजी कार में रिश्वत लेते हुए बाहुबली कॉलोनी आदिनाथ नगर निवासी हाल कुशलगढ़ AEN गोकुल प्रसाद विश्वकर्मा को 45-45 हजार की रिश्वत लेते हुए अलग-अलग पकड़ा। इसमें SE व्यास के नाम से एक या डेढ़ प्रतिशत कमीशन, XEN धाकड़ के लिए ढाई या तीन प्रतिशत, AEN के लिए 2 प्रतिशत, दो बाबू और अकाउंटेंट के लिए आधा-आधा यानी कुल डेढ़ प्रतिशत कमीशन तय था। पकड़े गए दोनों आरोपियों को गुरुवार को उदयपुर की विशेष कोर्ट में पेश किया जाएगा।

दो एनीकट बनाए थे

परिवादी ने बताया कि उसने वर्ष 2020-21 में कुशलगढ़ XEN कार्यालय के अधीन दो एनीकट बनाए थे। ये काम 24 लाख रुपए लागत का था, जिसे परिवादी यानी ठेकेदार फर्म ने 20.05 प्रतिशत दर पर लिया था। इस हिसाब से काम पूरा होने के बाद ठेकेदार फर्म को करीब 6 दिन पहले 15 लाख 6 हजार रुपए का भुगतान कर दिया गया था। इस कार्य के बदले ठेकेदार की ओर से 3 लाख 24 हजार रुपए का सिक्योरिटी डिपोजिट कराया गया था। ये राशि जारी करने से पहले XEN और AEN ने रिश्वत मांगी। XEN ने उसके तय कमीशन के साथ दो बाबू और अकाउंटेंट का हिस्सा मांगा, जबकि AEN ने उसके हिस्से के साथ SE का हिस्सा मांगा। ये करीब 45-45 हजार रुपए हुआ था। रंगे हाथों रिश्वत लेते हुए पकड़े गए दोनों अधिकारियों के घर पर भी एसीबी ने जांच पड़ताल शुरू कर दी है।