प्रेमिका के ससुराल पहुंचा बदमाश:पति पर तलवार से हमला बोला, युवती के चक्कर में पहले भी जेल गया था

बांसवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डेमो पिक। - Dainik Bhaskar
डेमो पिक।

एक सिरफिरा आशिक पुरानी प्रेमिका को हासिल करने के लिए उसके ससुराल पहुंच गया। रात के अंधेरे में वह चोरी छिपे मकान में भी दाखिल हुआ। सोती हुई प्रेमिका को हाथ पकड़कर भगाने की कोशिश की लेकिन, उसने शोर मचा दिया। तभी पूरा परिवार जग गया, युवती के पति ने बदमाश को पकड़ना चाहा तो उसने तलवार और पत्थर से उस पर वार किया। युवक लहूलुहान हो गया तो बदमाश वहां से भाग निकला। सिरफिरे आशिक ने दूसरी बार युवती को भगाने की कोशिश की है। पहले पीहर में रहते हुए भी आरोपी बदमाश नाबालिग रहते हुए लड़की को डरा धमकाकर भगा ले गया था। इसके बाद पीड़ित की ओर से थाने में शिकायत दर्ज हुई थी। वह जेल भी रहकर आया था। पीड़िता ने थाने में शिकायत वापस ली तो आरोपी छूट गया था। मामला दानपुर थाने का है।

जांच अधिकारी ASI रणजीतसिंह ने बताया कि कागवा निवासी संतोषी ने रिपोर्ट दी है। बताया कि रात साढ़े 11 बजे वह और उसका पति मनीष घर में सो रहे थे। तभी बड़ी सरवन (थाना केलवानी, MP) निवासी विनोद खराड़ी उसके मकान में घुस आया। वह पीड़िता का हाथ पकड़कर उठाने की कोशिश कर रहा था तभी वह चिल्लाई। एकदम से उसका पति जगा और आरोपी को पकड़ने की कोशिश की। इस पर बदमाश ने उस पर तलवार और पत्थर से वार किया। परिवार के अन्य लोग मौके पर पहुंचे तो बदमाश वहां से भाग गया।
18 दिन पहले हुई शादी, 10 दिन पहले जेल से छूटा

परिवार के देवीलाल खड़िया ने बताया कि 18 दिन पहले ही मनीष और संतोषी का विवाह हुआ है। शादी के 10 दिन पहले ही आरोपी जेल से छूटा था। आरोपी को लेकर लड़की के परिवार में पहले भांजगड़ा (समझौता) हुआ था। लड़की के पिता ने ही आरोपी को छुड़ाने में मदद की थी। बावजूद इसके बदमाश की आदतों में सुधार नहीं आया। उसने अब ये वारदात कर दी।