आपात काल के 47 साल पूरे:भाजपा ने मनाया काला दिवस, नेता बोले: लोकतंत्र की हत्यारी है कांग्रेस

बांसवाड़ा3 महीने पहले
अंबेडकर सर्कल पर धरना देते हुए भाजपा नेता।

देश में आपातकाल के 47 साल पूरे हो गए हैं। 25 जून 1975 को प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने देश में आपातकाल घोषित किया था। तब राजस्थान के मुख्यमंत्री हरिदेव जोशी थे, जिनका नाता बांसवाड़ा से है। आज इसी बांसवाड़ा के अंबेडकर चौराहे पर इस खास दिन को भाजपा काला दिवस के तौर पर मनाया। इस अवसर पर भाजपा की ओर से धरना प्रदर्शन किया गया। कांग्रेस पार्टी और प्रदेश सरकार के खिलाफ यहां खूब नारेबाजी हुई। भाजपा नेताओं ने इस मौके पर कांग्रेस को लोकतंत्र की हत्यारी बताया।

सुबह तय समय पर भाजपा के वरिष्ठ नेता पूर्व राज्यमंत्री भवानी जोशी, जिलाध्यक्ष गोविंद सिंह राव, महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष शीतल भंडारी एवं अन्य नेताओं ने धरना स्थल पर डेरा डाला। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष राव ने कहा कि आपातकाल की वो काली रात, जब तत्कालीन प्रधानमंत्री ने 25 जून 1975 को लोकतंत्र की हत्या की थी। कांग्रेस पार्टी की ये रीति नीति पुरानी है। यही कारण है कि प्रदेश की सत्ता में बैठी कांग्रेस सुबह उठते ही शासन और प्रशासन चलाने के बजाए भाजपा को कोसना शुरू करती है। तरह-तरह के आरोप लगाती है।

कांग्रेस पार्टी देश की मीडिया यानी चौथे स्तंभ तक को गोदी मीडिया का नाम देती है। कांग्रेस पार्टी और सरकार लोगों को अपने नियम जबरदस्ती थोपना चाहती है। दुनिया गवाह है कि वर्ष 1977 तक कांग्रेस ने अनुसूचित जाति और जनजाति पर कितने जुल्म किए। भाजपा का कार्यकर्ता ऐसे विरोध के लिए हमेशा संघर्ष करेगा। सड़कों पर बैठेगा और कांग्रेस के काले कारनामों को जनता के बीच लाने का साहस भी ये भाजपा का कार्यकर्ता रखता है।