पंजाब के CM चन्नी का पुतला फूंका:BJP ने कलेक्ट्रेट में की नारेबाजी, गांधी मूर्ति पर किया प्रदर्शन, बोले - PM की हत्या की थी साजिश

बांसवाड़ा21 दिन पहले
जिला कलेक्ट्रेट तिराहे पर पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीतसिंह चन्नी का पुतला दहन करते भाजपा पदाधिकारी।

पंजाब यात्रा के दौरान PM नरेंद्र मोदी के काफिले को ओवरब्रिज पर 15 मिनट तक रोकने का मामला सियासी गलियारों में गरमा रहा है। PM सुरक्षा में सेंध बताते हुए बांसवाड़ा में BJP ने प्रदर्शन किया। दोपहर बाद BJP ने कलेक्ट्रेट तिराहे पर पंजाब के CM चरणजीत सिंह चन्नी का पुतला फूंका। इसके बाद कलेक्टर को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन देकर पंजाब सरकार को बर्खास्त करने की मांग की। आक्रोशित भाजपा कार्यकर्ताओं ने मामले को कांग्रेस के राहुल गांधी और सोनिया गांधी की साजिश का अरोप लगाया। साथ ही गांधी मूर्ति पर धरने पर बैठे। इस दौरान भाजपा की ओर से कांग्रेस के विरोध में जमकर नारेबाजी भी की गई।

बांसवाड़ा जिला कलेक्ट्रेट में विरोध प्रदर्शन करते भाजपा पदाधिकारी।
बांसवाड़ा जिला कलेक्ट्रेट में विरोध प्रदर्शन करते भाजपा पदाधिकारी।

इससे पहले सभी भाजपा पदाधिकारी पार्टी कार्यालय में एकत्र हुए। वहां मंथन के बाद एक साथ रैली के तौर पर कलेक्ट्रेट तिराहे पर पहुंचे। सड़क पर CM चन्नी का पुतला फूंका। इसके बाद नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे। भाजपा जिलाध्यक्ष गोविंद सिंह राव, हकरू मईड़ा, सुनील दोसी, महावीर बोहरा, नगर मंडल अध्यक्ष निलेश जैन, गजेंद्र सिंह चौहान एवं अन्य पदाधिकारी यहां मौजूद थे।

भाजपा ने खड़े किए सवाल

  • प्रधानमंत्री मोदी के रूट के बारे में प्रदर्शनकारियों को सूचना कैसे मिली?
  • पंजाब CM, मुख्य सचिव और DGP वहां पहुंचे PM को रिसीव करने क्यों नहीं पहुंचे?
  • काफिले के साथ चल रहे सरकारी वाहन में मुख्य सचिव और DGP खुद क्यों नहीं बैठे?
  • जब PM को रूट से गुजरना था तो समय रहते प्रदर्शनकारियों को क्यों नहीं हटाया गया?
  • सुरक्षा में सेंध मारते हुए बाहरी लोग नारेबाजी करते हुए PM के काफिले तक कैसे पहुंचे?
  • CM चन्नी ने कहा कि सहयोगियों को कोरोना होने की वजह से नहीं पहुंचे थे तो प्रेस कांफ्रेंस कैसे की?
खबरें और भी हैं...