पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बरसाती पानी को बचाने में जुटे जिम्मेदार:राजीव गांधी जल संचय योजना में जारी कार्यों का निरीक्षण करने पहुंचे सीईओ, मानसून से पहले गुणवत्ता युक्त कार्य पर जोर

बांसवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राजीव गांधी जल संचय योजना के तहत डेरी में निर्माणधीन एनिकट। - Dainik Bhaskar
राजीव गांधी जल संचय योजना के तहत डेरी में निर्माणधीन एनिकट।

मौसम विभाग से मानसून की दस्तक को लेकर मिल रहे समाचारों के बीच जिला परिषद प्रशासन बरसाती पानी के संग्रहण वाले तरीकों को लेकर संजीदा हो गया है। इसी कार्ययोजना को लेकर मुख्य कार्यकारी अधिकारी भवानी सिंह पालावत के साथ अधीक्षण अभियंता सुधींद्र शेखर व्यास, एक्सईएन हरिमोहन मेहर सहित अन्य जिम्मेदारों ने छोटी सरवन ग्राम पंचायत की डेरी, दनाक्षरी में जारी परकोलेशन टैंक, डीप सीसीटी एमजीटी एवं एनिकट निर्माण कामों का निरीक्षण किया।

यह निर्माण राजीव गांधी जल संचय योजना के प्रथम चरण में चल रहा है। सीईओ पालावत ने मौके पर जारी निर्माण की गुणवत्ता को अच्छी रखने के साथ समय पर कार्य पूरा करने की बात मौके पर कही। उन्होंने कहा कि योजना का लाभ क्षेत्रीय लोगों और किसानों को मिलेगा।

वर्षाकाल में एकत्र होने वाला बरसाती पानी सिंचाई के काम आएगा। वहीं गर्मी के दिनों में यह पानी पशुओं की जरूरतों को भी पूरा करेगा। इससे जमीन में पानी का जलस्तर भी बढ़ेगा। गौरतलब है कि जिले की 11 पंचायत समिति में इसी योजना के तहत कई सारे निर्माण कार्य चल रहे हैं।

खबरें और भी हैं...