भास्कर खास:9वीं-11वीं के छात्रों की सुबह 7:30 से 12:30 तक लगेगी क्लास, 10वीं-12वीं वालों को सुबह 8 बजे से जाना होगा

बांसवाड़ाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक सितंबर से खुलेंगे स्कूल, भास्कर पहले ही बता रहा है एसओपी के प्रस्ताव और स्टूडेंट्स की टाइमिंग

135 दिन के बाद 1 सितंबर से 9वीं से 12 तक स्कूल खोलने की तैयारी के बीच शिक्षा निदेशालय ने 20 पाॅइंट्स की एसओपी तैयार की है। इसे मंजूरी के लिए अब सरकार के पास भेजा जाएगा। मंजूरी के बाद इसे लागू किया जाएगा। एसओपी में इसका विशेष ध्यान रखा गया है कि स्टूडेंट्स की सोशल डिस्टेंसिंग खत्म नहीं हो। इसके लिए सिर्फ उन स्कूलों में ही 100 प्रतिशत बच्चों को बुलाया जाएगा, जहां अतिरिक्त क्लास रूम की व्यवस्था हो।

अन्यथा 50 फीसदी क्षमता के साथ ही स्कूल खोले जाएंगे। हालांकि विभाग का तर्क है कि अभी 8वीं तक की क्लास नहीं लग रही है, इसलिए सभी स्कूल के क्लास रूम खाली पड़े हैं, जिससे सोशल डिस्टेंस को मेनटेन करने में दिक्कत नहीं आएगी। इस बीच ऑनलाइन पढ़ाई भी चलेगी। एसओपी के मुताबिक, 9वीं और 11वीं के स्टूडेंट्स की क्लास सुबह साढ़े 7 से साढ़े 12 बजे तक लगेगी, वहीं 10वीं और 12वीं की क्लास सुबह 8 से एक बजे तक चलेगी।

इन क्लासों के बीच गैप भी इसीलिए रखे गए हैं ताकि एक साथ बच्चों की भीड़ न जुटे। बिना मास्क किसी भी बच्चे को स्कूल में एंट्री नहीं मिलेगी। छुट्टी के समय भी बच्चों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। स्टूडेंट्स की सीटिंग अरेंजमेंट में सोशल डिस्टेंसिंग रखी जाएगी। स्कूल बुलाने के लिए पेरेंट्स की लिखित अनुमति जरूरी होगी यानी पेरेंट्स बच्चों को स्कूल भेजने के लिए तैयार होंगे, तभी उन्हें रेगुलर क्लास में बुलाया जाएगा अन्यथा उसकी ऑनलाइन क्लास जारी रहेगी।

टाइमिंग छोड़ पिछली एसओपी से इस बार कुछ नया नहीं

  • स्टूडेंट्स-टीचर सभी के लिए मास्क जरूरी
  • प्रार्थना सभा नहीं होगी
  • खेलकूद गतिविधियों पर रोक रहेगी
  • स्टूडेंट्स किसी दूसरे साथी से पेन, कॉपी, पेंसिल शेयर नहीं कर सकेंगे।
  • इंटरवल में लंच बॉक्स किसी से शेयर नहीं करेंगे।
  • बच्चे निर्धारित की गई सीट पर ही बैठेंगे
  • विद्यालय परिसर में अनावश्यक नहीं घूमेंगे
  • पानी की बाॅटल, सेनेटाइजर साथ रखेंगे
  • जुकाम, खांसी, बुखार होने पर स्कूल नहीं आएं।
खबरें और भी हैं...