अब बढ़ेगी ठंड:अरब सागर में साइक्लोनिक सर्कुलेशन बनने से छाए बादल

बांसवाड़ा25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अरब सागर में साइक्लोनिक सर्कुलेशन बनने से गुजरात के सौराष्ट्र सहित गुजरात की सीमा से सटे बांसवाड़ा और डूंगरपुर जिलों में बादल छाने के साथ बारिश जैसे हालात बने हैं। दिवाली के बार अचानक मौसम में बदलाव आया और ठंड का असर अब अपराह्न के बाद ही महसूस होने लगा है जो पहले शाम होने के बाद महसूस होता था।

दिन का अधिकतम तापमान अब 32 डिग्री और न्यूनतम16 डिग्री हो गया है। वातावरण में आद्रता की मात्रा 24 प्रतिशत रही और हवा की गति उत्तर से पूर्व की ओर 10.5 किलोमीटर प्रति घंटा की दर से जारी रही। मौसम विज्ञान विभाग के प्रभारी वैज्ञानिक डॉ. हरगिलास ने बताया कि अब माैसम में बदलाव अा रहा है अाैर तापमान में कमी अाती जा रही है।

तापमान कम हाेने पर ही गेहूं की बुवाई के लिए उपयुक्त समय होगा। इधर 10 नवंबर को माही बांध का पानी रबी फसल सिंचाई के लिए माही कमांड क्षेत्र 80 हजार हैक्टेयर क्षेत्र में ढाई हजार किलोमीटर लंबाई के नहरी तंत्र के माध्यम से छोड़ा जाना है। जिले में एक बार फिर से दो बड़े और दो छोटे पन बिजली गृहों में बिजली उत्पादन प्रारंभ होगा।

खबरें और भी हैं...