DSP सहित 32 को मिला प्रशंसा पत्र:बार प्रेसीडेंट को लेटर बम भेजने का मामला, 24 घंटे में आरोपी को पकड़ा था

बांसवाड़ा5 महीने पहले
सम्मान के बाद शौर्य सदन के बाहर फोटो सेशन के लिए मौजूद अधिकारी।

जिला कलेक्टर प्रकाशचंद्र शर्मा के साथ SP राजेश कुमार मीणा ने बांसवाड़ा DSP सूर्यवीर सिंह राठौड़ सहित 32 पुलिस के अधिकारियों और जवानों को प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया। पुलिस लाइन के शौर्य सदन में हुए इस सम्मान समारोह में कलेक्टर ने पुलिस टीम को बधाई दी। इन पुलिस कर्मचारियों को इसलिए सम्मानित किया गया है कि पुलिस टीम ने बार एसोसिएशन अध्यक्ष मनोज सिंह चौहान सहित 4 वकीलों को रजिस्टर्ड डाक से धमकी भरा लेटर भेजने वाले आरोपी वकील सुनील आचार्य को 24 घंटे के अंतराल में गिरफ्तार किया था। इस जिम्मेदारी के अलावा पुलिस की टीम ने गिरफ्तारी से पहले आरोपी से जुड़े सभी साक्ष्य जुटा लिए थे। वहीं पुलिस प्रशासन की ओर से धमकी भरा लेटर मिलने के बाद वकीलों को सुरक्षा भी मुहैया कराई थी।

सम्मानित पुलिस कार्मिकों के बीच पत्रकारों के सवालों का जवाब देते अधिकारी।
सम्मानित पुलिस कार्मिकों के बीच पत्रकारों के सवालों का जवाब देते अधिकारी।

मनोबल बढ़ाने के प्रयास
उदयपुर में धमकी के बाद कन्हैयालाल की हत्या के मामले के बाद उसी अंदाज में भेजे गए लेटर बम को पुलिस ने गंभीरता से लिया। पुलिस ने वकीलों की सुरक्षा को लेकर भी कोई कोताही नहीं बरती। वहीं तत्परता दिखाते हुए अपराधी तक पहुंच गई। ऐसे में टीम का मनोबल बढ़ाने के लिए पुलिस प्रशासन की ओर से ये आयोजन हुआ। सम्मान पाने वालों में कोतवाल रतन सिंह चौहान भी शामिल थे।

सम्मान के बाद कार्यक्रम को संबोधित करते जिला कलेक्टर शर्मा।
सम्मान के बाद कार्यक्रम को संबोधित करते जिला कलेक्टर शर्मा।

पुलिस पर दबाव भी था

हकीकत में बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों को धमकी मिलने के बाद न्यायिक अधिकारियों ने भी मामले को गंभीरता से लिया था। साथ ही इस मामले की रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचाने जेसी बातें भी हुई। इस बीच न्यायिक अधिकारियों के कारण पुलिस पर दबाव बढ़ गया। इसलिए भी पुलिस ने बिना देर लगाए मामले में गंभीरता दिखाई थी।

लेटर बम से बांसवाड़ा में सनसनी:बार अध्यक्ष सहित 4 वकीलों को मिली धमकी, वकील ही निकला गुनहगार, पुलिस ने पकड़ा