शराब का शौक पूरा करने के लिए करते थे लूट:दोवड़ा पुलिस ने 3 बदमाशों को धरा, रणसागर स्कूल के पास हुई लूट का 24 घंटे में खुलासा

बांसवाड़ा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस की गिरफ्त में लुटेरे। - Dainik Bhaskar
पुलिस की गिरफ्त में लुटेरे।

शराब के शौक को पूरा करने के लिए राहगीरों और वाहन सवारों से लूट करने वाले बदमाशों का शनिवार को पुलिस ने खुलासा किया। दोवड़ा (डूंगरपुर) थाना पुलिस ने लूट के 24 घंटे के भीतर वारदात में लिप्त 3 बदमाशों को धर दबोचा। पकड़े गए कजाटीघाटा निवासी राजू कलासुआ, खेड़ा कच्छवासा निवासी किरण अहारी और प्रवीण खराड़ी ने पूछताछ में पुलिस के समक्ष उनका अपराध भी कबूल किया। थाना प्रभारी कमलेश चौधरी ने बताया कि शुक्रवार शाम को चुण्डियापाड़ा निवासी अमरसिंह ने रिपोर्ट दी थी। इसमें बताया था कि वह डूंगरपुर से कार लेकर घर की ओर जा रहे थे। तभी रणसागर स्कूल के पास दो बाइक पर सवार तीन युवकों ने उन्हें रोकने की कोशिश की। बाद में पीछा कर वाहनों को कार के आगे खड़ा कर दिया। बदमाशों ने उनसे शराब पीने के लिए रुपए मांगें। मना करने पर उनके साथ मारपीट की। वहीं पर्स लेकर फरार हो गए। इसके बाद थानाधिकारी के नेतृत्व में गठित टीम ने संदेह के आधार पर बदमाशों को पकड़ा। बाद में बदमाशों ने अपराध कबूल लिया।

थाने के कार्रवाई दल के बीच मौजूद बदमाश।
थाने के कार्रवाई दल के बीच मौजूद बदमाश।

लोकेशन पर मोबाइल
पुलिस ने अपराधियों तक पहुंचने के लिए घटना स्थल पर मोबाइल की लोकेशन ट्रेस की। वहीं स्थानीय लोगों के माध्यम से भी ऐसे कामों में लिप्त लोगों का पता लगाया। इसके बाद संदेह हुआ तो बदमाशों को पुलिस ने उठाया। सख्ती से हुई पूछताछ में आरोपियों ने उनका गुनाह कबूल कर लिया। पुलिस की मानें तो सभी बदमाश 20 से 25 वर्ष के बीच हैं, जो पढ़ाई लिखाई छोड़ चुके हैं। खुद का खर्च उठाने और महंगे शौक पूरा करने के लिए इस तरह की वारदात को अंजाम देते हैं। पुलिस बदमाशों का पुराना हिसाब भी टटोल रही है।

इनपुट : गजेंद्र कुमार उपाध्याय (गणेशपुर)

खबरें और भी हैं...