कॉलेज से घर लौट रही लड़की का अपहरण:10 दिन बाद थाने पहुंचा पिता, बोला- सामाजिक प्रतिष्ठा के लिए चुप था

बांसवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डेमो पिक। - Dainik Bhaskar
डेमो पिक।

चचेरी बहन के साथ कॉलेज से घर लौट रही नाबालिग लड़की के अपहरण का मामला सामने आया है। बहन के सामने जीप लेकर आए कुछ बदमाशों ने जबरदस्ती की और लड़की को गांगड़तलाई-रोहनिया रोड से उठा ले गए। घटना करीब 11 दिन पुरानी है, जिसमें पुलिस ने अब मामला दर्ज किया है। पीड़ित पिता ने मामले में आनंदपुरी थाना पुलिस को बताया कि गांव में सामाजिक मान प्रतिष्ठा बनाए रखने के लिए उसने थाने में रिपोर्ट नहीं दी थी। ऐसा इसलिए भी था कि आरोपियों ने उसकी बेटी लौटाने का भी आश्वासन दिया था, लेकिन अब तक उन्होंने वादा पूरा नहीं किया। पिता ने बताया कि उसकी बेटी की वर्तमान लोकेशन भी अहमदाबाद मिल रही है।

पुलिस ने शिकायत के बाद मामला दर्ज कर इसकी जांच शेरगढ़ चौकी प्रभारी लालसिंह को सौंपी है। आनंदपुरी पुलिस के अनुसार बेलकारी ग्राम पंचायत निवासी पिता ने इस मामले की रिपोर्ट दी है। बताया कि 4 दिसम्बर को उसकी बेटी और भाई की बेटी गांगड़तलाई कॉलेज से घर को लौट रही थी। वह रोहनिया रोड से पैदल-पैदल आ रही थी। आरोप है कि तभी पाटिया कोदर निवासी अरविंद कुमार पारगी, सतीश कुमार पारगी, कुछ महिलाओं सहित 11 लोग वहां जीप लेकर पहुंचे।

आरोपियों ने जबरदस्ती कर उसकी बेटी का अपहरण कर लिया। यह देख उसके भाई की लड़की ने आरोपियों के चुंगल से उसकी बेटी को छुड़ाने की कोशिश की, लेकिन प्रयास विफल रहे। पीड़ित ने बताया कि उसने गांव के प्रतिष्ठित लोगों के साथ संपर्क कर आरोपियों को बेटी लौटाने को कहा। तब आरोपी परिवार के कुछ लोगों ने बेटी लौटाने का आश्वासन भी दिया। इस मामले में पूर्व सरपंच हर लाल की भी मदद ली गई, लेकिन अब तक भी बेटी पहुंच से दूर है। पीड़ित ने बताया कि कुछ दिन पहले उसकी बेटी और आरोपी अरविंद के अहमदाबाद होने की जानकारी मिली थी।

खबरें और भी हैं...