पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आग की चपेट में आईं दो दुकानें:पुराना बस स्टैंड पर दो दुकानों में आग, दो दमकलों से पौने घंटे में काबू पाया

बांसवाड़ा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुराना बस स्टैंड क्षेत्र स्थित साइकिल स्टोर में लगी आग। - Dainik Bhaskar
पुराना बस स्टैंड क्षेत्र स्थित साइकिल स्टोर में लगी आग।

शहर के पुराने बस स्टैंड क्षेत्र की दो दुकानों में सोमवार सुबह आग लग गई। पहले आग साइकिल की दुकान में लगी फिर पास के स्कूल बैग की दुकान को भी चपेट में ले लिया। आग से नई साइकिलों के साथ मोटरसाइकिल के टायर और स्कूल बैग भी जल गए। सुबह का वक्त होने से यहां काफी चहल-पहल थी। जिससे वहां लोगों की भीड़ जमा हो गई।

पुलिस ने इलाके के चारों ओर सुरक्षा घेरा बना दिया। यहां दो दमकलों ने करीब पौने घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। फिलहाल आग का कारण शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है। आग भगवती साइकिल स्टोर में लगी। लॉकडाउन की वजह से दुकान बंद थी। दुकान मालिक दीपेश कंसारा ने आग से 7 लाख का नुकसान होना बताया है।

टायर जलने से पास में बहुचर ट्रेडर्स नाम की इस दुकान में रखे स्कूल बैग, पत्तल दोने और अन्य सामान जल गया। सामान बचाते हुए दुकानदार का हाथ भी झुलस गया। साइकिल दुकानदार दीपेश कंसारा ने कलेक्टर को पत्र लिखकर आपदा विभाग से आर्थिक सहायता दिलवाने का आग्रह किया है। वहीं चपेट ने आईं बहुचर ट्रेडर्स दुकान मालिक ने 3 से 3.50 लाख तक नुकसान होने की आशंका जताई है।

भीड़भाड़ वाला इलाका, बड़ा हादसा टला
लॉकडाउन के बाद बाजार में बढ़ी भीड़ को लेकर सीआई प्रदीप बिट्टू खुद ही गश्त करते हुए दुकानों को बंद करा रहे थे। तभी वे पुराना बस स्टैण्ड पहुंचे। यहां उन्होंने एक दुकान से धुआं उठते देखा। साथ ही शटर के नीचे से आग की लपटें देखीं। जिस पर फायर ब्रिगेड को सूचना दी। सीआई प्रदीप बिट्‌टू ने बताया कि दो दुकानों में आग लगी थी। टायर जलने से आग बढ़ गई।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें