पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पर्यावरण संरक्षण के लिए बांसवाड़ा में अभिनव प्रयोग:प्रदेश में पहली बार 200 फीट ऊंचाई पर तैयार हो रहा कुदरती ऑक्सीजन प्लांट

बांसवाड़ा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सरवन डेरी वन क्षेत्र की पहाड़ियों पर पौधरोपण के लिए गड़्ढे खोदकर की गई तैयारी। - Dainik Bhaskar
सरवन डेरी वन क्षेत्र की पहाड़ियों पर पौधरोपण के लिए गड़्ढे खोदकर की गई तैयारी।
  • वन विभाग व 210 ग्रामीणों ने सूखी पहाड़ियों पर 80 दिन में खोदे 25000 गड्‌ढे, अब रोपें जाएंगे पौधे

काेराेना की दूसरी लहर में कई लोगों की ऑक्सीजन कमी से मौत हो गई, तब लोगों को प्रकृति की अहमियत समझ आई। इसी को ध्यान में रखकर शहर से 28 किमी दूर सरवन डेरी क्षेत्र में पहला कुदरती ऑक्सीजन प्लांट (हब) तैयार किया जा रहा है। वन विभाग और 5 गांवों के 210 लोगों ने मिलकर 80 दिन में 200 फीट ऊंची सूखी पहाड़ियाें पर 25000 गड्ढे खोद दिए। पहली बारिश के बाद यहां पाैधे रोपे जाएंगे। डीसीएफ हरिकिशन सारस्वत ने बताया कि वनपाल शकील अहमद, वनरक्षक राकेश वडेरी, केटल गार्ड रमेश का सहयोग रहा।

15 प्रजातियों के पौधे होंगे
15 प्रजातियों के पौधे होंगे
  • 15 मार्च काे काम शुरू और 2 जून काे जन सहयोग से हुआ पूरा।
  • मानसून के बाद भी पौधों को पानी मिलता रहे, इसलिए गड्‌ढों के बीच-बीच में ट्रैंच बनाए हैं।
  • एक गड्‌ढे की गहराई डेढ़ फीट है, ताकि नमी भी बनी रहे।

सहायक वनपाल इंद्रपाल शर्मा ने बताया कि क्षेत्र में पहली बारिश होने के बाद वन विभाग और ग्रामीणों के सहयोग से बांस, आंवला, खैर, अर्जुन, जामून, बैर, नींबू आदि प्रजातियों के पौधे रोपे जाएंगे।

  • 1500 हैक्टेयर जमीन
  • 25000 गड्‌ढे खोदे
  • 10,000 ट्रैंच बनाए
खबरें और भी हैं...