• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Banswara
  • Girl Given A Lift And Missing: The Minor Was Kidnapped While Returning From School, The Friend Had Gone To Buy Ghee, The Father Feared Something Untoward

लड़की को दी लिफ्ट फिर लापता:स्कूल से लौटते वक्त नाबालिग को किया अगवा, सहेली बोली-घी लेने गई थी, पिता को अनहोनी की आशंका

बांसवाड़ा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

एक लड़की को लिफ्ट देने के बहाने उसे अगवा किए जाने का मामला सामने आया है। यह मामला बांसवाड़ा के खमेरा थाना क्षेत्र की है। मामले में एक माह बाद नाबालिग के पिता ने अपनी बेटी के अपहरण करने को लेकर कुशलगढ़ थाना क्षेत्र के एक युवक के खिलाफ सज्जनगढ़ थाने में नामजद रिपोर्ट दी है। पिता ने मामले में अनहोनी की आशंका भी जताई है।

16 वर्षीय बेटी सामना खरीदने गई थी, अब तक नहीं लौटी
मामले में पिता ने आरोपी युवक की पहचान बताते हुए लड़की के साथ कुछ गलत होने की आशंका जताई है। अब मामले की जांच सज्जनगढ़ थाने के हेड कांस्टेबल कन्हैयालाल को सौंपी गई है। इससे पहले सामलासेर निवासी पिता ने पुलिस को दी रिपोर्ट में बताया कि 12 दिसंबर को 16 वर्षीय बेटी घरेलू सामान खरीदने के लिए गई थी, जो अब तक घर नहीं लौटी है।
पिता बोले, आरोपी ने बेटी को घर में रखा है, पत्नी बनाना चाहता है
पिता ने अपनी पड़ताल की तो पता चला है कि रंगतपुरा थाना कुशलगढ़ निवासी परतेश पुत्र नानजी डामोर ने उसकी बेटी को बाइक पर बिठाया था। इसके बाद से उसकी बेटी लापता है। पिता के मुताबिक, स्कूल रिकॉर्ड के हिसाब से बेटी की जन्म तिथि 5 जनवरी 2008 है। ऐसे में नाबालिग के पिता ने आशंका जताई की आरोपी ने उसकी बेटी को उसके घर में रखा हुआ है। वह उसके साथ कोई भी अप्रिय वारदात कर सकता है। वह उसकी बेटी को पत्नी बनाना चाहता है। मामले की जांच ASI राजमल कर रहे हैं।
बहला-फुसलाकर ले गया, स्कूल से लौटते वक्त सहेली भी थी साथ में
इधर, खमेरा थाना क्षेत्र के मालीखेड़ा निवासी पिता ने पुलिस को दी रिपोर्ट में बताया कि उसकी नाबालिग बेटी 12 दिसंबर की सुबह 9 बजे घर से स्कूल जाने के लिए निकली थी। वहां से लौटते समय उसकी सहेली भी साथ थी। शाम तक बेटी घर नहीं लौटी तो उसने तलाश शुरू की। यहां बेटी की सहेली ने उसे बताया कि वह घी लेने गई थी। लौट आएगी, लेकिन तबसे अब तक उसकी बेटी घर नहीं लौटी है। पिता ने आशंका जताई कि कोई युवक उसे बहला-फुसलाकर ले गया है।

खबरें और भी हैं...