पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Banswara
  • Had Left For Home From Ahmedabad, The Family Kept Waiting In The Night, Father's Hands And Feet Swelled After Seeing The Dead Body In The Field

पेड़ पर फंदे से झूलता मिला नाबालिग:अहमदाबाद से घर को हुआ था रवाना, रात में परिवार करता रहा इंतजार, खेत में शव देख पिता के हाथ-पैर फूले

बांसवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आसपुर थाना क्षेत्र के मठ झरिया में पेड़ पर झूलता  नाबालिग का शव। - Dainik Bhaskar
आसपुर थाना क्षेत्र के मठ झरिया में पेड़ पर झूलता नाबालिग का शव।

आसपुर थाना क्षेत्र के मठ झरियाना गांव से शुक्रवार को पुलिस ने पेड़ पर फंदे से झूलते नाबालिग का शव बरामद किया। नाबालिग गुरुवार को अहमदाबाद से गांव के लिए रवाना हुआ था। रात को परिवार उसके आने की राह देखता रहा। वहीं दिन में खेत पर गए उसके पिता को बेटे का शव पेड़ पर फंदे से झूलता दिखा। यह देख बुजुर्ग पिता के हाथ-पैर फूल गए। उसके रोने का शोर सुनकर यहां लोगों की भीड़ लग गई। बाद में सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौका कार्रवाई की।
पुलिस की मानें तो मठ झरियाना निवासी भावेश (16) पुत्र रमेश मीणा काम के सिलसिले में अहमदाबाद गया था। गुरुवार को उसने अहमदाबाद से गांव लौटने की जानकारी दी। परिवार उसके गांव पहुंचने का इंतजार करता रहा। रात तक भी घर नहीं आए भावेश को लेकर परिवार ने चिंता तो की, लेकिन वह किसी रिश्तेदार के घर चला गया होगा। यह सोचकर परिजनों ने उसकी तलाश नहीं की। शुक्रवार को खेत पर गए पिता रमेश मीणा को नीम के पेड़ पर किसी युवक का शव लटकता दिखा। नजदीक जाकर देखने पर उन्हें उनका बेटा भावेश दिखाई दिया। यह देख रमेश घबरा गया और जोर-जोर से चिल्लाने लगा। शोर सुनकर समीपवर्ती अन्य लोग भी मौके पर आ गए। सूचना पर पहुंचे पूंजपुर चौकी प्रभारी भगवतसिंह, कांस्टेबल वीरेंद्रसिंह मौके पर पहुंचे। वहां से शव को आसपुर स्थित सीएचसी की मोर्चरी में पहुंचाया।
किसी नतीजे पर नहीं पुलिस
मौका स्थल पर शव को उतारने वाली पुलिस अभी मामले को लेकर संशय में है। उसे आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चला है। वहीं हत्या के अंदेशे जैसे सुराग भी नहीं मिले हैं। लेकिन, पुलिस की ओर से मामले में हत्या जैसी आशंका से भी इनकार नहीं किया जा रहा है। पुलिस यह पता लगाने में जुटी है कि अहमदाबाद से आते समय नाबालिग किसके साथ था। अंतिम बार वह किसके साथ यहां तक पहुंचा था। हालांकि, जल्दबाजी में निर्णय लेने के बजाए पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आने का इंतजार कर रही है।

कंटेंट : एम.पी.सिंह चौहान (पूंजपुर)

खबरें और भी हैं...