• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Banswara
  • Hearing The News Of Brother's Death, The Wife Was Shocked, Anandpuri CI Arranged For The Vehicle, There Were Tears In The Eyes Of The Disappointed Children

SDO पिता से बिना मिले ही लौटे बच्चे:भाई की मौत का समाचार सुनकर पत्नी पीहर गई, निराश बच्चों की आंखों में थे आंसू

बांसवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पिलानी (झुंझुनूं) रवाना हुआ आनंदपुरी SDO छोटूलाल शर्मा का परिवार। - Dainik Bhaskar
पिलानी (झुंझुनूं) रवाना हुआ आनंदपुरी SDO छोटूलाल शर्मा का परिवार।

बच्चों की आनंदपुरी SDO पिता से मिलने की ख्वाहिश अधूरी ही रह गई। मामा की मौत के समाचार के बाद बच्चों को मां के साथ वापस पिलानी लौटना पड़ गया। रोते बिलखते बच्चे पिता से बिना मिले ही ननिहाल लौट गए। शनिवार सुबह बच्चों ने एक बार फिर उनके पिता को मोबाइल पर संपर्क का प्रयास किया, लेकिन हमेशा की तरह मोबाइल नंबर ब्लैक लिस्ट में होने के कारण बच्चों का SDO छोटूलाल शर्मा से संपर्क नहीं हो सका।

दूसरी ओर आर्थिक कारणों के बीच घर पहुंचने के लिए पूनम शर्मा (पत्नी) ने आनंदपुरी CI कपिल पाटीदार की मदद ली। पाटीदार ने परिवार को पिलानी भेजने के लिए वाहन मुहैया कराया। तब कहीं जाकर परिवार यहां से गंतव्य के लिए रवाना हो सका। गौरतलब है कि SDO शर्मा ने पत्नी से तलाक के लिए गुलाबपुरा कोर्ट में परिवाद दर्ज कराया हुआ है, जहां मामले की सुनवाई हो रही है।

इस बीच दिवाली के दो दिन पहले पत्नी पूनम शर्मा, 12 साल की बच्ची सभ्यता शर्मा एवं 7 साल का बेटा अभिनव शर्मा स्कूल की छुटि्टयों के बीच पिता के साथ यहां आनंदपुरी में दिवाली मनाने आए थे। लेकिन, 96 घंटे बांसवाड़ा और आनंदपुरी में बिताने के बाद भी SDO शर्मा से उनकी मुलाकात नहीं हो सकी। इधर, पत्नी पूनम शर्मा ने बताया कि वह किसी भी हाल में उनके पति को तलाक नहीं देंगी। इस उम्र में इतने बड़े बच्चों को लेकर वह कहां जाएंगी। पूनम ने बोला की तलाक का नोटिस भी उनके पति की ओर से भेजा गया था।
पूनम बोलीं : छोटा भाई चिंता करता था उसे ब्रेन हेमरेज हुआ

पूनम शर्मा ने बताया कि उनके 4 भाई हैं। सबसे छोटा भाई जिसकी उम्र करीब 30 साल है। वह उनकी चिंता करता था। पिलानी से बांसवाड़ा आने के बाद वह उनसे संपर्क में था। समय-समय पर फोन पर बातचीत कर हाल पूछ रहा था। इसी बीच उसके मस्तिष्क में रक्त का थक्का बनने की शिकायत हुई। उसे झुंझुनूं के ढाका हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। एक साल पहले ही भाई का विवाह हुआ था। लेकिन, मुसीबत में भी वह पति को फोन लगाती रही।

बावजूद इसके सभी प्रयास विफल रहे। उन्होंने बोला कि भला हो आनंदपुरी CI का, जिन्होंने मुसीबत में उनकी बहुत मदद की। पूनम ने जाते समय आनंदपुरी थानाधिकारी को चार पेज की एप्लीकेशन भी दी है, जिसमें पति के साथ हुई अनबन से लेकर अब तक की जानकारी दी गई है।

दर-दर भटक रहा SDM का परिवार:800 किमी दूर से चलकर आई पत्नी और बच्चे, क्वार्टर बंद कर गायब हुए आनंदपुरी SDM

पत्नी-बच्चों के घर पहुंचने पर SDO ने कटवाया बिजली कनेक्शन:परिवार भूखा सोया, SDO बोले- उनकी जान को खतरा, राजकार्य में बाधा की रिपोर्ट दी

सर्दी लगने से बीमार हुई SDO की पत्नी और बेटी:पुलिस ने कराया उपचार, 72 घंटे बाद भी नहीं पहुंचे SDO, जांच को पहुंची पुलिस