लंकाई का मामला:रुपयों के विवाद में शराब के नशे में छोटे दृष्टिहीन भाई की कुल्हाड़ी से कर दी हत्या

बांसवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मृतक की विमंदित पत्नी को देख भाग गया आरोपी

सल्लोपाट थाना क्षेत्र के लंकाई गांव में मंगलवार रात एक युवक ने अपने छोटे दृष्टिहीन भाई की की कुल्हाड़ी से वार कर निर्ममता से हत्या कर दी। हत्या का कारण रुपयों के लेन-देन संबंधी विवाद को बताया जा रहा है। मृतक हकरू पुत्र थावरा आदिवासी की पत्नी मरियम जो कि स्वयं मानसिक रूप से कमजोर है, वह वारदात स्थल से कुछ ही दूरी पर थी। जब उसने अपने जेठ भटू को पति पर हमला करते देखा,तो चिल्लाते हुए दौड़ी।

उसे आता देख हमलावर मौके से फरार हो गया। मरियम ने कुछ ही दूर स्थित अपने एक अन्य जेठ कपास के घर पहुंच इस वारदात की जानकारी दी। जिस पर वह अन्य पड़ोसियों के साथ मौके पर पहंुचा। सूचना मिलने पर थानाधिकारी अंसार अहमद, बागीदौरा डिप्टी सहित अन्य पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे।

थानाधिकारी अंसार अहमद ने बताया कि प्रारंभिक जांच में पता चला कि मृतक ने अपने बड़े भाई थावरा को कुछ पैसे दे रखे थे। उसने सुबह उगाही की तो थावरा ने शाम को देने की बात कही। शाम को जब उसने वापस उगाही की तो आवेश में आकर शराब के नशे में उसने छोटे भाई की हत्या कर दी। मृतक दृष्टिहीन हकरू तीन भाइयों में सबसे छोटा था। उसके 7 और 8 साल के दो बेटे हैं। छोटा बेटा ही उसे लकड़ी पकड़ कर इधर- उधर ले जाता था। सरकारी योजनाओं से मिलने वाली आर्थिक सहायता व अपनी जमीन किसी अन्य को खेती पर देने से होने वाली आमदनी से परिवार का गुजर बसर कर रहा था।

जिस भाई के तीनों बच्चों की शादियां कराई, उसी ने मार डाला

पुलिस के अनुसार हत्या का आरोपी भटू तीन सालों से गुजरात था। कुछ दिनों पहले ही गांव लौटा था। उसकी पत्नी का देहांत 10 साल पहले हो चुका था। उसके तीन पुत्र थे, जिनकी शादियां भी मृतक ने ही कराई थी। हमलावर के तीनों लड़के भी रोजगार के लिए गुजरात ही थे। उनमें से एक दिवाली पर गांव आया था, जो वारदात से कुछ ही घंटों पहले वापस गुजरात के लिए रवाना हुआ था।

खबरें और भी हैं...