• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Banswara
  • It Was Found That 7 MBC Jawans Were Corona Positive, Knowing The Truth, The Collector Also Slipped, The ASP Got Down From The Car.

सैंपलिंग के लिए तैनात 7 कॉन्स्टेबल कोरोना पॉजिटिव निकले:जवान ने छींका, हेल्थ वर्करों ने की जांच; RTPCR टेस्ट के लिए सैंपल भेजा

बांसवाड़ा5 महीने पहले
मोहन कॉलोनी चौराहे पर गुरुवार को मेडिकल टीम ने वहां तैनात कॉन्स्टेबल के सैंपल लिए।

कोरोना की रैंडम चेकिंग के लिए मेडिकल टीम के साथ ड्यूटी पर तैनात MBC (मेवाड़ भील कोर) के 7 कॉन्स्टेबल कोरोना पॉजिटिव निकले हैं। पुलिस लाइन से बस में जवानों को साथ लाने वाला ड्राइवर तक संक्रमित निकला है। महात्मा गांधी जिला अस्पताल लैब ने इन जवानों का रैपिड एंटीजन टेस्ट लेने के बाद RTPCR जांच के लिए नमूने भी लिए हैं।

मोहन कॉलोनी चौराहे पर मेडिकल टीम से जानकारी लेते कलेक्टर अंकित कुमार सिंह।
मोहन कॉलोनी चौराहे पर मेडिकल टीम से जानकारी लेते कलेक्टर अंकित कुमार सिंह।

मेडिकल टीम ने गुरुवार को रैंडम जांच के लिए मोहन कॉलोनी चौराहे का चयन किया। तभी वाहन सवारों को रोकने के लिए पुलिस लाइन से जाब्ता आया। ड्यूटी पॉइंट पर बस से उतरते ही एक पुलिस जवान ने छींक दिया। यह देख मेडिकल टीम का ध्यान गया। टीम ने बिना देर लगाए छींकने वाले जवान की एंटीजन जांच की। उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद मेडिकल टीम ने सभी जवानों की जांच की। ड्राइवर तक संक्रमित निकला। मेडिकल टीम के लैब प्रभारी डॉ. समीर खान ने बताया कि अब RTPCR रिपोर्ट आने के बाद हकीकत सामने आएगी। अभी रैंडम चैकिंग में उनके भीतर कोरोना के लक्षण मिलने की पुष्टि हुई है। बीते 7 दिन में बांसवाड़ा में करीब 22 पॉजिटिव सामने आ चुके हैं। महात्मा गांधी जिला अस्पताल की लैब के स्तर से रोज करीब 250 रैंडम जांचें की जा रही हैं।

फ्लैग मार्च भी थे ये जवान !
ये सभी जवान बुधवार शाम को पुलिस की ओर से शहर में निकाले गए फ्लैग मार्च में भी थे। इन जवानाें के मार्च में शामिल होने की किसी स्तर पर पुष्टि नहीं की गई है। डॉ. समीर खान ने बताया कि ये जाब्ता बीते कई दिन से मेडिकल टीम के साथ ड्यूटी दे रहा था। फ्लैग मार्च में ये जवान शामिल नहीं थे।

अलग बैरक में MBC
बांसवाड़ा SP राजेश कुमार मीणा ने बताया कि पुलिस लाइन का परिसर बहुत बड़ा है। इसमें भी MBC का बैरक अलग है। मामला जानकारी में आने के बाद सभी जवानों को आइसोलेट कर दिया गया है। कोरोना गाइड लाइन के हिसाब से उनका इलाज चल रहा है।

ASP गाड़ी से ही नहीं उतरे
सरकारी आवास से ऑफिस आ रहे कलेक्टर अंकित कुमार सिंह ने मेडिकल टीम को रैंडम जांच करते हुए देखा। वह टीम के पास तक गए और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। पीछे से ASP कैलाश सांदू भी मौके से गुजरे। उनका वाहन कुछ समय के लिए रुका। वह गाड़ी से नहीं उतरे।

राजस्थान में नहीं लगेगा लॉकडाउन-वीकेंड कर्फ्यू:गहलोत बोले- इस बार कोरोना कम घातक, फिलहाल सख्ती का विचार नहीं, लोग सावधानी बरतें
राजस्थान सचिवालय में कोरोना विस्फोट:2 IAS समेत 30 अफसर-कर्मचारी पॉजिटिव, एक में ओमिक्रॉन के लक्षण

राजस्थान कोरोना LIVE:मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कोरोना पॉजिटिव, घर पर ही आइसोलेट हुए; दूसरी बार हुए संक्रमित

खबरें और भी हैं...