उदयपुर बस स्टैंड पर मिला लापता स्टूडेंट:12वीं का एक एक्जाम भी छोड़ा, फेल होने के डर से भागा था

बांसवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चेतन मईड़ा - Dainik Bhaskar
चेतन मईड़ा

किराए के मकान से गायब हुआ 12वीं क्लास का स्टूडेंट उदयपुर के बस स्टैंड पर मिला। इस बीच उसके दोनों मोबाइल नंबर बंद मिले। जेब में रुपए खत्म हुए तो फोन चालू किया। उसने मदद के लिए दोस्तों से पैसे मांगें। तब कहीं घर वालों को उसकी लोकेशन मिली। परिवार उसे भरोसे में लेकर घर लौटा। इससे पहले लड़का 12वीं की परीक्षा का एक्जाम देने भी नहीं गया था। लापता बेटे की सूचना पर परिवार ने कोतवाली थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी।

दरअसल, बांसवाड़ा के खेरडाबरा बोरापाड़ा निवासी चेतन मईड़ा यहां भारतीय विद्या भवन विद्यालय की 12वीं क्लास का स्टूडेंट है। उसके 12वीं के एक्जाम चल रहे हैं, लेकिन 19 मई की रात को वह यहां मोहन कॉलोनी गली नंबर सात स्थित किराए के मकान से एकाएक गायब हो गया। उसके दोनों मोबाइल नंबर भी बंद बताते रहे। वह 20 मई को एक्जाम में भी शामिल नहीं हुआ। सूचना पर परिवार को अनहोनी की आशंका हुई तो पिता शंकरलाल मईड़ा ने कोतवाली में गुमशुदगी दर्ज कराई। इधर, शनिवार सुबह शंकरलाल ने बताया कि उनका बेटा मिल गया है। वह उदयपुर बस स्टैंड पर बैठा हुआ मिला है। बताया कि परीक्षा के दो पेपर उसके बिगड़ गए थे। 19 मई की रात को भी वह दोस्तों के साथ रात 9 बजे तक घूम रहा था। अगला पेपर भी उसे बिगड़ता हुआ दिख रहा था। ये सोचकर कि वह फेल हो जाएगा। वह बहाना बनाने के लिए घर से गायब हो गया। उदयपुर जाते समय उसके पास 5 सौ रुपए थे। वह खत्म हो गए तो उसने दोस्तों से वापसी किराए के लिए पैसे मांगें। इसके लिए उसने मोबाइल खोला। दोस्त की सूचना पर परिवार उदयपुर पहुंचकर बेटे को साथ लाया। पिता शंकर ने बताया कि बेटे की इस गलती पर उन्होंने डांट फटकार नहीं की है।