पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मां के चरणों से दो गज दूर माही:7 साल में पहली बार सितंबर में भी माही बांध 4.9 मीटर खाली

बांसवाड़ा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हर साल जब माही माता के मंदिर तक पानी आ जाता है। तब माही बांध के गेट खुल जाते हैं। - Dainik Bhaskar
हर साल जब माही माता के मंदिर तक पानी आ जाता है। तब माही बांध के गेट खुल जाते हैं।
  • बांध में 281.5 मीटर पानी आने पर डूब जाता है माही माता मंदिर, इस बार 277.60 मीटर पानी ही
  • उम्मीद क्योंकि फिर सक्रिय हुआ कम दबाव क्षेत्र, अगले 5 दिन अच्छी बारिश की संभावना

प्रदेश का चेरापूंजी बांसवाड़ा को भी इस साल अच्छी बारिश के लिए इंतजार करना पड़ा है। 1000 एमएम औसत बारिश वाले बांसवाड़ा में इस साल अब तक 573.57 एमएम बारिश ही हुई है। मानसून की बेरुखी का पता इसी से चल रहा है कि सितंबर के 12 दिन गुजर गए, लेकिन माही बांध अभी भी 4.9 मीटर खाली है। एेसा 7 बाद हुआ है, जब अगस्त में माही बांध के गेट नहीं खुले। वर्ष 2014 सितंबर में बांध के गेट खुले थे। हर साल जब माही माता के मंदिर तक पानी आ जाता है। तब माही बांध के गेट खुल जाते हैं।

बंगाल की खाड़ी से खुशखबरी
मौसम विभाग केंद्र जयपुर के निदेशक डॉ. राधेश्याम शर्मा ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में पिछले दिनों सक्रिय में कम दबाव के क्षेत्र से काफी जगह अच्छी बारिश हुई है और अब यह नया संकेत और भी बेहतर है कि नया कम दबाव का क्षेत्र बनने से आगामी 5 दिनों तक अच्छी बारिश हो सकती है।

घाटाेल में ढाई और भूंगड़ा में दाे इंच बारिश
जिले में पिछले 24 घंटाें के दाैरान बांसवाड़ा में 17 एमएम, दानपुर 8, घाटाेल 66, भूंगड़ा 50, जगपुरा 26, गढ़ी 25, लाेहारिया 40, अरथूना 16, बागीदौरा 12, शेरगढ़ 12, सल्लोपाट 6, कुशलगढ़ 3, सज्जनगढ़ में 18 एमएम बारिश दर्ज की गई है। माही बांध का जलस्तर 281.50 मीटर की तुलना में 277.60 मीटर रहा (76.30% भरा हुआ) और बांध में पानी की आवक 226.80 क्यूमेक की दर से जारी रही। बांध में 280 मीटर पानी होते होते ही बिजली उत्पादन शुरू किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...