पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Banswara
  • On Sending The Proposal Of The Highway Passing Through The City To The Center, A Cycle Track Can Also Be Made Along The CC Road.

नेशनल हाइवे 113 की तेजपुर से बोरवट तक सड़क:शहर से गुजर रहे हाईवे के प्रस्ताव केंद्र को भेजने पर सीसी रोड के साथ साइकिल ट्रैक भी बन सकता है

बांसवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • तेजपुर से बोरवट तक की सड़क के लिए राज्य सरकार के बच सकते हैं 25 कराेड़
  • एनएचएआई ने नहीं भेजे प्रस्ताव इसलिए राज्य सरकार ने दिया बजट

शहर के भीतर से गुजर रहे नेशनल हाइवे 113 की तेजपुर से बोरवट तक की 17 किलोमीटर सड़क के लिए हाल ही में राज्य सरकार ने 25 कराेड़ रुपए की बजट घोषणा की थी, जिसकी स्वीकृति मिल चुकी है। लेकिन राज्य सरकार के यह 25 करोड़ रुपए बचाए जा सकते हैं, साथ ही उच्च गुणवत्ता की सड़क साइकिल ट्रैक के साथ बन सकती है। राज्य सरकार की स्वीकृति के मुताबिक यह सड़क खाटूश्याम मंदिर से तेजपुर और दाहाेद नाके से बोरवट बाइपास तक बनाई जानी है।

हाइवे निर्माण के बाद छूटे शहर के इस हिस्से पर भी पक्की सड़क बनाने का केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्रालय में प्रावधान है। जिसके मुताबिक शहर की हाइवे वाली सड़क पर डामरीकरण नहीं बल्कि सीमेंटेड सड़क का निर्माण हाेना है। लेकिन एनएचएआई के द्वारा इसके प्रस्ताव नहीं भेजने के कारण राज्य सरकार काे बजट जारी करना पड़ा है। केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी सदन में ऐसी 70 सड़काें काे विकसित करने की बात कह चुके हैं और राज्यों से भी और भी ऐसी सड़काें के निर्माण के लिए प्रस्ताव भेजने काे कहा है।

पाड़ला से कूपड़ा तक भी निर्माण की मांग: ट्राइबल एरिया विकास समिति के गोपीराम अग्रवाल ने भी केंद्रीय मंत्री गडकरी के बयान के बाद तेजपुर से बोरवट एनएच 113 के अलावा नेशनल हाइवे 927 ए पालड़ा से लेकर कूपड़ा तक भी इसी तर्ज पर सड़क विकसित करने की मांग की है।

एनएचएअाई में प्रावधान: सड़क के साथ फुटपाथ बनाना

केंद्रीय मंत्री गडकरी ने सदन में दिए बयान के अनुसार जाे एनएच के पुराने राेड जाे शहर के बीच से गुजरते थे, उन्हें छाेड़ दिया जाता था, वहां काम इसलिए नहीं किया जाता था कि वाे हाइवे नया बना दिया जाता था। लेकिन इसमें बदलाव किया गया है कि जाे शहर के बीच से राेड गुजर रहा है वहां वाइट टॉपिक सीमेंट कंक्रीट का राेड बनाया जाएगा।

इसके अलावा वहां फुटपाथ भी बनाएंगे, साइकिल ट्रैक बनाने के अलावा सीनियर सिटिजन के बैठने के लिए जगह भी बनाई जाएगी। इसके लिए मंत्रालय की ओर से 70 प्रपोजल स्वीकृत भी किए गए हैं। मंत्री ने ऐसी सड़काें के लिए सांसदों से अपने अपने क्षेत्र के प्रपोजल भी मांगे हैं।

खबरें और भी हैं...