दौरा:प्रत्येक कोर्ट के बाहर पेडल सैनिटाइजर मशीन रखेंगे

बांसवाड़ाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • न्यायिक अधिकारियों और डॉक्टरों ने कोरोना से बचाव के लिए कोर्ट परिसर का किया निरीक्षण

राजस्थान उच्च न्यायालय और राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जयपुर के निर्देशानुसार कोरोना संक्रमण से बचाव की तैयारी का जायजा लेने के लिए न्यायिक अधिकारी और डॉक्टर कोर्ट परिसर पहुंचे। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से स्वयंसेवी संगठन के सहयोग से जल्द ही प्रत्येक कोर्ट में पेडल सेनेटाइजर मशीन उपलब्ध कराई जाएगी।

यह मशीन प्रत्येक न्यायालय के मुख्य द्वार पर लगाई जाएगी, जहां अधिवक्ता, कार्मिक और पक्षकारान प्रवेश से पूर्व स्वयं को सेनेटाइज कर सकेंगे। कार्यवाहक जिला न्यायाधीश कुलदीप सूत्रकार, प्राधिकरण के सचिव देवेंद्रसिंह भाटी, एसीजेएम कुसुम सूत्रकार, अतिरिक्त न्यायिक मजिस्ट्रेट विकास जैन, बार एसोसिएशन के अध्यक्ष नंदलाल पुरोहित, सीएमएचओ डॉ. एचएल ताबियार, पीएमओ डॉ. नंदलाल चरपोटा आदि ने कोर्ट परिसर, वकीलों के चैंबर्स, नोटेरी पब्लिक, स्टांप वेंडर्स के टेबल, बाथरूम, कैंटीन का निरीक्षण किया, जहां कोरोना काल में हाइकोर्ट द्वारा जारी दिशा निर्देशों की पालना सही तरीके से करना पाया गया।

अधिकारी कर्मचारी मास्क, ग्लब्ज व सेनेटाइजर का उपयोग करते पाए गए। वकील और पक्षकारों के लिए न्यायालयों में सेनेटाइजर रखे गए हैं। कोर्ट परिसर में समुचित साफ सफाई है। कोर्ट के कमरों में मास्क पहनने के बाद ही वकील और पक्षकारों को प्रवेश दिया जा रहा है।

सामाजिक दूरी की पालना कराई जा रही है। प्राधिकरण द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए आमजन को जागरूक करने सभी कोर्ट के बाहर पोस्टर लगाए गए हैं। पेंपलेट वितरित किए गए हैं। इसके अलावा तालुका मुख्यालयों पर स्थित कोर्ट परिसरों का संबंधित पीठासीन अधिकारी और बीसीएमओ ने निरीक्षण कर कमियों को दूर करने के निर्देश दिए। 

वकील के खुले चैंबर्स के पास सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी : निरीक्षण में पाया कि वकील के खुले चैंबर्स, नोटरी पब्लिक और स्टांप वेंडर्स के टेबल के आसपास काफी पक्षकारान मास्क पहनकर नहीं आ रहे हैं। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग की भी अनदेखी कर रहे हैं। इस पर सीएमएचओ ने लोगों से मास्क का उपयोग करने और सामाजिक दूरी बनाए रखने की हिदायत दी।

खबरें और भी हैं...