फायरिंग का मामला:घाटोल में 51 लाख की फिरौती के लिए व्यापारी के बेटे को गोली मारने वाला प्रतापगढ़ का शूटर गिरफ्तार

बांसवाड़ा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मास्टर माइंड फरार आरोपी नदीम का बांसवाड़ा के साकरिया में ननिहाल, वही लाया था गन

घाटोल कस्बे में चार दिन पूर्व हीरो शोरूम मालिक के पुत्र पर हुई फायरिंग मामले में पुलिस ने एक शूटर को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। एसपी कावेंद्र सिंह सागर ने बताया कि इस सनसनीखेज वारदात के बाद एएसपी कैलाश सांदू के निर्देशन में घाटोल डिप्टी एसपी कैलाश चंद्र बोरीवाल व खमेरा सीआई लक्ष्मण डांगी, मोटागांव थानाधिकारी दिलीपसिंह, सब इंस्पेक्टर करनाराम, एएसआई अब्दुल हकीम व कांस्टेबल सतपाल की टीम ने शोरूम व्यवसायी के पुत्र स्नेहिल पर फायर कर गोली मारने वाले प्रतापगढ़ जिले के साकरिया निवासी शावेज पुत्र आजम उर्फ शंभू खां पठान को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। उसने अपने रिश्तेदार नौगांवा, प्रतापगढ़ निवासी नदीम के साथ मिल कर इस वारदात को अंजाम दिया था। शावेज पूर्व में प्रतापगढ़ कस्बे में हुई फायरिंग के मामले में लिप्त रहा है।

सायबर सेल की महत्वपूर्ण भूमिका
एसपी ने बताया कि व्यापारी पुत्र स्नेहिल सेठ को 51 लाख की फिरौती मांगी थी। इसके कुछ समय बाद ही दोनों शूटरों ने उस पर दो राउंड फायर किए गए थे। एक गोली गाड़ी के ड्राइवर साइड का कांच तोड़ते हुए उसकी बांह में जा घुसी थी। दूसरे फायर की गोली ड्राइवर के पीछे वाली सीट के दरवाजे में जा घुसी थी। मौके से अपराधियों के बारे में कोई ठोस जानकारी नहीं मिल सकी थी। इस पर एसपी ऑफिस की सायबर सेल के हेड कांस्टेबल प्रवीण सिंह ने स्नेहिल के मोबाइल पर फिरौती के लिए आए फ़ोन नम्बर का विश्लेषण किया गया। इसके बाद मिली जानकारियों के आधार पर मुखबिर लगाए गए। उनसे मिले सुरागों के जरिए शूटरों तक पंहुच सकी।

नदीम के कहने पर शावेज घाटोल आया था, दोनों में अच्छी दोस्ती
प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया है कि नदीम के कहने पर शावेज इस वारदात में शामिल हुआ था। नदीम का ननिहाल साकरिया गांव में है। रिश्तेदार होने के कारण दोनों में दोस्ती भी थी। वारदात से पहले नदीम उसे लेकर घाटोल आया था। नदीम अभी फरार है। उसकी गिरफ्तारी के बाद ही इस वारदात के असली सूत्रधारों का खुलासा हो सकेगा। एसपी ने बताया कि वारदात के खुलासे में प्रतापगढ़ पुलिस का विशेष सहयोग रहा।

खबरें और भी हैं...