सौतन के डर से पति का घर छोड़ा:धक्के देकर गांव से बाहर निकाला, दो बच्चों को भी मारने की कोशिश

बांसवाड़ा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सौतन से प्रताड़ित पीड़िता। - Dainik Bhaskar
सौतन से प्रताड़ित पीड़िता।

सौतन के डर से दूसरी पत्नी अपने दो बच्चों के साथ किराए के घर में रह रही है। उसने सौतन और उसके बेटे पर घर से धक्के देकर बाहर निकालने का आरोप लगाया है। साथ ही जिंदगी रहते हुए गांव में नहीं घुसने की धमकी दी। दूसरी पत्नी ने अब पुलिस से सुरक्षा की मांग की है। मामला बांसवाड़ा के सदर थाना इलाके का है।

दो बच्चों के साथ पीड़िता।
दो बच्चों के साथ पीड़िता।

दरअसल, माकोद में रहने वाली चंदा देवी बुनकर ने सदर थाना में शिकायत की है। उसने बताया कि वह कैलाश बनुकर की दूसरी बीवी है। वहीं उसकी सौतन गेंदा देवी, उसका बेटा दिनेश और गांव के कुछ लोग उनके दुश्मन बने हुए हैं। इससे पहले उसने कैलाश के साथ 28 मई 2009 को सामाजिक रीति-रिवाज से शादी की। पति से उसके 11 साल की बेटी और 7 साल का बेटा है। गांव में रहते हुए सब ठीक था, लेकिन कुछ लोगों के बहकावे में आकर सौतन का व्यवहार बदल गया। इसके बाद लंबे समय से सौतन और उसका बेटा उसे गांव में नहीं घुसने दे रहे हैं। इस बीच उसके बच्चों को भी मारने की कोशिश की गई। अभी वह दूसरे गांव में किराए के मकान में रहती है। उसके पति ने भी पहली पत्नी को समझाने की कोशिश की। गांव समाज को इकट्‌ठा कर निर्णय करवाने के प्रयास किए, लेकिन बात नहीं बनी। महिला ने बताया कि पुलिस मौजूदगी में उसकी समस्या का समाधान कराया जाए। ताकि वह उसके परिवार और गांव में सामाजिक जीवन जी सके। बता दें कि कैलाश बुनकर बैंक में सुरक्षा गार्ड की नौकरी करता है।