पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एक साल का मोटर वाहन टैक्स माफ करने की मांग:निजी बस एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने किया प्रदर्शन, आर्थिक पैकेेज के साथ डीजल पर वैट कर करने की मांग

बांसवाड़ा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बस स्टैण्ड पर विरोध प्रदर्शन करते निजी बस ऑपरेटर। - Dainik Bhaskar
बस स्टैण्ड पर विरोध प्रदर्शन करते निजी बस ऑपरेटर।

निजी बस यूनियन की ओर से एक दिवसीय प्रदेश व्यापी बंद को लेकर बांसवाड़ा में वागड़ बस मोटर एसोसिएशन की ओर से बसों और सवारी वाहनों का संचालन बंद रखा गया। इस दौरान सवारियों को गंतव्य तक पहुंचने के लिए खासी मशक्कत करनी पड़ी। दूसरी ओर संगठन के पदाधिकारियों की ओर से यहां बसों के आगे खड़े होकर प्रदर्शन किया। कोरोनाकाल में लॉकडाउन और आर्थिक तंगी का कारण बताते हुए संगठन ने मुख्यमंत्री से एक साल का मोटर वाहन टैक्स माफ करने की मांग की। वाहन मालिकों की ओर से सरकार से आर्थिक पैकेज मांगते हुए डीजल पर लगे वैट को कम करने मुद्दा उठाया। साथ ही एक साल तक वाहनों का इंश्योरेंस आगे बढ़ाने की बात कही। इसके बाद सभी संगठन पदाधिकारी यहां कलेक्ट्रेट पहुंचे और कलेक्टर को सीएम के नाम का ज्ञापन सौंपा।
सरेंडर किए जा रहे वाहन
एसोसिएशन अध्यक्ष पूरण माटा एवं जिलाध्यक्ष रामसिंह चौहान की ओर से दिए गए ज्ञापन में बताया गया कि करीब एक माह पहले उनकी ओर से ऐसी ही समस्या को लेकर सरकार को आगाह किया गया था, लेकिन उसके बाद से सरकार की ओर से कोई राहत नहीं दी गई। इसके चलते वाहन मालिकों की ओर से चक्का जाम किया गया है। अब वाहन मालिक उनके वाहनों को जिला परिवहन कार्यालय में सरेंडर कर रहे हैं। वाहन मालिकों ने कहा कि बीते 17 महीने से कोरोनाकाल के चलते उनके वाहन घर पर ही खड़े रहे हैं। कुछ वाहन चले भी हैं तो उनमें घाटा ही हुआ है।

खबरें और भी हैं...