गहलोत सरकार के खिलाफ जनजाति मोर्चा का प्रदर्शन:बोले - राहुल गांधी के लिए राज्यसभा सांसद काे रोका, लोकतंत्र का अपमान

बांसवाड़ा3 महीने पहले
प्रदर्शन करते हुए कलेक्ट्रेट में दाखिल होती जनजाति मोर्चा की रैली।

राज्यसभा सांसद डॉ. किरोड़ीमल मीणा के उदयपुर और अजमेर में घुसने पर लगाई गई पाबंदी का भाजपा जनजाति मोर्चा ने विरोध किया है। पुलिस की इस कार्रवाई के विरोध में मोर्चा ने शुक्रवार को प्रदर्शन किया। भाजपा कार्यालय से शहर के कई इलाकों में रैली निकालते हुए मोर्चा के पदाधिकारी यहां जिला कलेक्ट्रेट पहुंचे और सरकार की इस हरकत पर नाराजगी जताई।

पदाधिकारियों की ओर से मामले में जिला कलेक्टर के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन भेजा गया। भाजपा जिला प्रभारी दिनेश भट्‌ट के निर्देशन में प्रदेश मोर्चा धर्मेंद्र राठौड़, हकरू मईड़ा, राजेश कटारा सहित अन्य पदाधिकारियों ने शहर में रैली निकाली। रैली जिला कलेक्ट्रेट पहुंची, जहां कलेक्टर प्रकाशचंद शर्मा को ज्ञापन सौंपा। मोर्चा ने सरकार की इस हरकत पर नाराजगी जताई। भट्‌ट ने कहा कि किरोड़ी मीणा उदयपुर में उनके रिश्तेदार के यहां शोक बैठक में बैठने आए थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें इसलिए रोक दिया कि उदयपुर में कांग्रेस की चिंतन बैठक चल रही थी। सरकार को डर था कि राहुल गांधी के कार्यक्रम में कोई विघ्न नहीं हो जाए। इसलिए किरोड़ी मीणा को उदयपुर के बाहर ही रोककर लौटा दिया।