पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलिस को डूबने से मौत पर संदेह:खेत पर पत्नी से बोला-घर चल, कुछ देर में आता हूं, 27 घंटे बाद नदी किनारे मिला तैराक का शव

बांसवाड़ा20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शव का पोस्टमार्टम कराने आए परिजन। - Dainik Bhaskar
शव का पोस्टमार्टम कराने आए परिजन।
  • बांकानेर की घटना, मृतक मछली पकड़ने लगाता था छलांग

बांकानेर में सेामवार काे 50 वर्षीय कानहींग भाभोर का शव नदी किनारे मिला। प्रारंभिक तौर पर मौत की वजह डॉक्टर पानी में डूबना बता रहे हैं। कानहींग अच्छा तैराक था, इसलिए पुलिस के यह बात गले भी नहीं उतर रही। विनोद भाभाेर ने थाने में दी रिपोर्ट में बताया कि उसके पिता 50 वर्षीय कानहींग भाभाेर और मां लाडुड़ी शनिवार को खेत पर काम करने गए थे।

शाम को मां घर आ गई और पिता ने कहा कि वे कुछ देर में आ जाएंगे, लेकिन रात तक वे घर नहीं आए तो परिजनों ने तलाश शुरू की। शनिवार की रात और रविवार दिनभर ढूंढने के बाद भी नहीं मिले। रविवार रात करीब 9 बजे सूचना मिली कि हिरनी नदी बांकानेर में एक व्यक्ति का शव मिला है। वह पहुंचा तो पुलिस की जीप शव ले जा रही थी। उसने गाड़ी में देखा तो उसके पिता का था। जिसे जलीय जीवों ने नोंच दिया था।

2 बड़े सवाल : 1. अच्छा तैराक था तो डूबा कैसा?
2. शराब भी पीता था, इसलिए नदी में तो नहीं गिरा?

1. पुलिस ने बताया कि कानहिंग की गिनती अच्छे तैराकों में थी। वह अक्सर नदी किनारे मछली पकड़ने जाता था। जिस नदी में जहां शव मिला, वहां गहराई करीब 50 फीट है। सवाल यह भी है कि अगर कानहिंग अच्छा तैराक था तो वह नदी में कैसे गिरा? 2. पुलिस को यह भी पता चला है कि कानहिंग शराब भी पीता था। इसलिए दूसरा अंदेशा यह भी जताया जा रहा है कि कही वह नशे में तो नहीं गिर गया। हालांकि पुलिस अभी पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। जिसके बाद ही मौत की स्पष्ट वजह सामने आ सकेगी।

खबरें और भी हैं...