पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कुशलगढ़ आबकारी थाने का मामला:आबकारी थाने से अवैध शराब बरामद करने के मामले में सीनियर के खिलाफ जूनियर अधिकारी काे साैंपी जांच

बांसवाड़ा19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 75 दिन बाद भी जांच आगे नहीं बढ़ी

कुशलगढ़ आबकारी थाने से अवैध शराब बरामदगी के चर्चित मामले में 75 दिन बाद भी जांच आगे नहीं बढ़ पाई है। वह इसलिए कि इस मामले में पीओ हेमराज जाट के खिलाफ जांच उनके जूनियर सीआई सीआई प्रेमनारायण शर्मा काे साैंपी है। सीआई शर्मा का अभी प्राेबेशन चल रहा है। ऐसे में सीआई पहले ताे इसी पशाेपेश में रहे कि वे सीनियर के खिलाफ जांच कर सकते है या नहीं। इसी उलझन में 75 दिन गुजर गए।

सीआई ने डीईओ काे पत्र लिखकर विधिक मार्गदर्शन चाहा। जिस पर उन्हाेंने सीआई काे ही आयुक्तालय पत्र लिखकर इस मामले में उचित मार्गदर्शन का सुझाव दिया। कुल मिलाकर कार्रवाई के ढाई महीने बाद भी जांच अभी कागजाें से बाहर नहीं निकल पाई है। गाैरतलब है कि 19 अप्रैल काे डीईओ आबकारी पी.सी. रेगर ने कुशलगढ़ आबकारी थाने के मालखाने की जांच कर 6 पेटी बीयर और 4 पेटी देसी मदिरा बरामद की थी। पीओ हेमराम जाट ने दावा किया था कि जब्त शराब सरकारी ठेके की दुकान की गारंटी नहीं भरने पर जब्त की गई थी। ठेके की दुकान जनवरी में सीज कर दी थी।

खबरें और भी हैं...