पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

क्रिकेट संघ में फिर विवाद...:डीसीए के राजमहल में गुपचुप चुनाव, पर्यवेक्षक भी नजरअंदाज, अापत्तियां भी लाॅकडाउन में मांगी

बांसवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • चुनाव के बाद विवाद बढ़ा ताे कार्यकारिणी की जानकारी छिपाई

बांसवाड़ा जिला क्रिकेट संघ एक बार फिर विवाद में आ गया है। जन्माष्टमी के अवकाश के दिन डीसीए पदाधिकारी और खेल अधिकारी धनेश्वर मईड़ा ने बिना पर्यवेक्षक के ही चुनाव करवा दिया। साथ ही चुनाव के लिए जगह भी निजी स्थान राजमहल पैलेस काे चुना गया, ताकि इसकी ज्यादा जानकारी नहीं हाे। राजस्थान खेल अधिनियम 2005 के अनुसार चुनाव गतिविधि के दौरान पर्यवेक्षक का उपस्थित रहना अनिवार्य है।

चुनाव निजी स्थान पर भी नहीं करवाए जा सकते। इस पूरे मामले में सवाल इसलिए भी उठ रहे है क्याेंकि डीसीए के पदाधिकारियों ने चुनाव को लेकर 7 मई को नोटिस निकाल दिया, जबकि उस दाैरान लाॅकडाउन था। ताज्जुब की बात है कि उसी तारीख में खेल अधिकारी धनेश्वर मईडा ने नोटिस को रिसीव भी कर लिया। जब ऑफिस बंद था, डाक सेवा बंद थी तो नोटिस जारी होना और खेल अधिकारी की ओर से रिसीव करना मामले में सीधा सा सवाल खड़ा कर रहा है।

जब चुनाव काे लेकर पदाधिकारियाें से सवाल-जवाब किए ताे उन्हाेंने कार्यकारिणी की जानकारी ही छिपा ली। डीसीए पर पहले भी यही आराेप लगते आए है कि गुपचुप तरीके से चुनाव कराए गए। इन मामलाें की चुनाव की तत्कालीन उप रजिस्ट्रार और खेल अधिकारी द्वारा जांच भी गई है।

इन पर कोर्ट में मामला भी चल रहा है। इनके कारण बनाई गई एडहॉक कमेटी को भंग किया गया। अब भी कोर्ट से स्टे चल रहा था। डीसीए की ओर से बच्चों से वसूली सहित कई अनियमितताएं सामने आ चुकी है। बांसवाड़ा जिला क्रिकेट संघ चुनाव को लेकर आरसीए पदाधिकारियों ने भी चुप्पी साध रखी है। चुनाव को लेकर डीसीए के सचिव नृपजीत सिंह और अध्यक्ष महेश सराफ का पक्ष जानने के लिए फोन लगाया गया, लेकिन रिसीव नहीं किया।

लाॅकडाउन में जयपुर से बांसवाड़ा आए चुनाव अधिकारी
लॉकडाउन में जब जयपुर और बांसवाड़ा रेड जोन में था उस दौरान जयपुर निवासी चुनाव अधिकारी बीएल सिंगारिया ने 29 मई को बांसवाड़ा आकर फॉर्म जमा करा दिया। आपत्ति संबंधी सभी कार्य भी पूरे कर दिए। चुनाव अधिकारी बीएल सिंगारिया से लॉक डाउन में बांसवाड़ा दौरे के बारे में पूछा तो उन्होंने कुछ भी कहने से मना कर दिया। इससे साफ है कि यह सारा काम कागजाें में ही पूरा किया गया।

बारिश के कारण आरसीए के पर्यवेक्षक नहीं आए: मईड़ा

  • बारिश की वजह से आरसीए के पर्यवेक्षक नहीं आए थे। राजमहल में चुनाव करवाए हैं। लॉकडाउन में चुनाव अधिकारी आए हाेंगे ताे वहां डीसीए में आए होंगे। मुझे मेल से नोटिस मिला था। - धनेश्वर मईड़ा, खेल अधिकारी
  • पर्यवेक्षक तो होना चाहिए। अब एग्जिक्यूटिव कमेटी ही फैसला लेगी इस चुनाव को लेकर क्या करना है। - महेंद्र नाहर, संयुक्त सचिव, आरसीए
  • इस बारे में उनको जानकारी नहीं है। अगर नियमों को उल्लंघन खेल अधिकारी ने किया है तो उसके लिए जानकारी ली जाएगी। फिर आगे की कार्रवाई होगी। - महेंद्र मीणा, सचिव, स्पोर्ट्स काउंसलिंग

यह है नियम

स्वतंत्र चुनाव कराने के लेकर डीसीए की ओर से खेल अधिकारी, उप रजिस्ट्रार और आरसीए को 21 दिन पहले नोटिस देना होता है। साथ ही कोई भी चुनाव में भाग ले इसके लिए विज्ञप्ति जारी की जाती है। आरसीए की ओर से भी चुनाव पर्यवेक्षक नियुक्त किए जाते हैं जो पूरे चुनाव उनकी देखरेख में किया जाता है। साथ ही नियमों के मुताबिक चुनाव सार्वजनिक जगह पर किया जाता है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय पूर्णतः आपके पक्ष में है। वर्तमान में की गई मेहनत का पूरा फल मिलेगा। साथ ही आप अपने अंदर अद्भुत आत्मविश्वास और आत्म बल महसूस करेंगे। शांति की चाह में किसी धार्मिक स्थल में भी समय व्यतीत ह...

और पढ़ें