डाकणा बोल युवक को बुरी तरह पीटा:कंधा फ्रैक्चर किया, पत्नी व लड़की ने बचाया, बोले: जानवर- आदमी कुछ भी मरा तो जिम्मेदारी तेरी

बांसवाड़ा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डेमो पिक। - Dainik Bhaskar
डेमो पिक।

अंधविश्वास के बीच कुछ लोगों ने एक युवक की केवल इसलिए पिटाई कर दी कि उनका बकरा बीमार होकर मर गया था। खेत में काम करते हुए युवक को डाकणा (महिला के लिए डाकण और पुरुष को डाकणा) बोलते हुए लोगों ने लात घुसों से जमकर मारा। बोला कि तू हमारे बकरों को बीमार कर खा गया है। इसके बाद उस पर लट्‌ठ से हमला बोल दिया। युवक की पत्नी और बच्ची ने जैसे-तैसे बीच बचाव कर युवक को बचाया। अब उसका अस्पताल में उपचार जारी है। आनंदपुरी थाना क्षेत्र के आंबा निवासी हक्सी पुत्र नानजी ताबीयार ने पुलिस को दी रिपोर्ट में बताया कि वह खेत में काम कर रहा था। तभी गांव के नरेश पुत्र चोखा, चोखा पुत्र नानजी, रूपी देवी पत्नी चोखा, हुकी देवी पत्नी नरेश ताबीयार ने उसे घेर लिया। सभी ने डाकणा कहते हुए उसके साथ जमकर मारपीट की। बाद में नरेश ने लट्‌ठ से हक्सी के कंधे पर वार किया। इससे उसके फ्रैक्चर हो गया। उसके गंभीर चोटें आई हैं। हक्सी ने बताया कि उसकी पत्नी कमला और पुत्री ने बीच बचाव कर बदमाशों से उसे बचाया। आरोपी उसे पूरे गांव में डाकणा कहकर बुलाते हैं। यह कहते हुए भी धमकाया कि भविष्य में उनका कोई जानवर, मवेशी या आदमी मरता है तो वह लाशों को लाकर उसके घर आंगन में रख देंगे। इसके बदले में वह मौताणा भी लेंगे। पीड़ित युवक ने पुलिस को बताया कि उसकी जान काे खतरा बना हुआ है। मामले की जांच ASI नरेंद्रसिंह कर रहे हैं।