वैक्सीनेशन के लिए 38 वाहनों पर निकला स्वास्थ्य महकमा:वैक्सीन से बचे लोगों की तलाश में 8 ब्लॉक के दुर्गम इलाकों में पहुंचेंगी टीमें

बांसवाड़ा21 दिन पहले
मोहन कॉलोनी चौराहे पर चिकित्सा विभाग की वाहन रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना करते अतिथि।

कोरोना की तीसरी लहर के बीच जिले का स्वास्थ्य महकमा वैक्सीनेशन को लेकर गंभीर हो गया है। विभाग ऐसे लोगों की तलाश कर रहा है, जिन्होंने अब तक वैक्सीन की पहली डोज नहीं लगवाई है। जिला प्रशासन, चिकित्सा विभाग और केयर इंडिया (NGO) की ओर से शुक्रवार को 8 कार और 30 बाइक इस कार्य को अंजाम देने के लिए रवाना हुई है। यानी यानी हर ब्लॉक में एक कार और दुपहिया पर नर्सिंग स्टाफ साथ होगा। कार में वैक्सीन की सुविधा होगी तो बाइक पर वेरीफइड पर्सन और वैक्सीनेटर साथ में होगा।

हर ब्लॉक पर वैक्सीन लेकर जाएगा वाहन।
हर ब्लॉक पर वैक्सीन लेकर जाएगा वाहन।

इससे पहले जिला प्रमुख रेशम मालवीया, नगर परिषद सभापति जैनेंद्र त्रिवेदी, उप जिला प्रमुख डॉ. विकास बामनिया, ADM नरेश बुनकर एवं CMHO डॉ. एच.एल. ताबीयार ने शुक्रवार सुबह वाहनों की इस रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। मोहन कॉलोनी चौराहे से वाहनों का जखीरा बांसवाड़ा, बागीदौरा, कुशलगढ़, छोटी सरवन, तलवाड़ा, गढ़ी, घाटोल, आनंदपुरी के लिए रवाना हुआ। सभी वाहनों में माइक लगे हुए हैं, जो रास्ते में चलते हुए लोगों के बीच वैक्सिनेशन का संदेश देने के साथ ही कोरोना के प्रति सावधान रहने के लिए लोगों को चेताएंगे। गौरतलब है कि NGO की ओर से पूरे उदयपुर संभाग के बांसवाड़ा, डूंगरपुर, प्रतापगढ़, चित्तौड़गढ़ एवं राजसमंद में इस तरह का अभियान चलाया जा रहा है, जो करीब एक महीने तक चलेगा। आवश्यकता हुई तो इस अभियान को आगे बढ़ाया जा सकेगा।

कार्यक्रम के दौरान मोहन कॉलोनी चौराहे पर रिबिन काटते अतिथि।
कार्यक्रम के दौरान मोहन कॉलोनी चौराहे पर रिबिन काटते अतिथि।

BCMO की जिम्मेदारी
CMHO डॉ. एच.एल. ताबीयार ने बताया कि हर ब्लॉक पर BCMO की ओर से ऐसे इलाकों की सूची दी जाएगी, जहां वैक्सीनेशन कम हुआ है। या यूं कहें कि जहां मेडिकल टीमें दूरी के कारण नहीं पहुंच पाई हैं। बांसवाड़ा में अब तक करीब 20 लाख वैक्सिनेशन हो चुके हैं। विभाग के प्रयास कोरोना बढ़ने से पहले हर व्यक्ति को टीकाकरण सुविधा देने का है।