परिवार को सोता छोड़ भागी लुटेरी दुल्हन:केवल 2 दिन रुकी ससुराल, दलाल को 2 लाख दिए थे, पहली पत्नी भी छोड़ गई थी

बांसवाड़ा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
डेमो पिक। - Dainik Bhaskar
डेमो पिक।

युवक को सोता छोड़ लुटेरी दुल्हन का नगदी व जेवर लेकर भागने का नया केस सामने आया है। शादी के बाद दुल्हन केवल 2 दिन ही ससुराल में रुकी। इससे पहले दलाल को दो लाख रुपए देकर युवक ने जलगांव (महाराष्ट्र) की युवती से कोर्ट मैरिज की थी। युवक के साथ लगातार दूसरी बार ऐसा वाक्या हुआ है। इससे पहले सामाजिक रीति-रिवाज से हुई शादी के करीब तीन साल बाद पत्नी इसी युवक को छोड़ गई थी। पहली पत्नी के एक लड़का भी हुआ था, लेकिन किसी दूसरे युवक से अफेयर के बीच पत्नी उसे छोड़ गई।

मामला बांसवाड़ा के कोतवाली थाने का है। कोतवाली पुलिस ने बताया कि भागाकोट, कल्याण कॉलोनी निवासी उमेश तंबोली के साथ ये धोखा हुआ है। पीड़ित ने थाने में दी रिपोर्ट में बताया कि मार्च में उसका वनीता नाम की दलाल महिला से संपर्क हुआ। उसने महाराष्ट्र के जलगांव में लड़की देखने जाने को कहा। इसके बाद 4 अप्रैल को वह मां के साथ जलगांव गया। लड़की पसंद आई तो 26 अप्रैल को वनीता एक अन्य लड़की मनीषा और जलगांव निवासी ज्योति और मीनाक्षी को लेकर बांसवाड़ा आई। मनीषा के तौर पर युवक और उसके परिवार को दुल्हन समझ आ गई। अगले दिन कोर्ट में दोनों की शादी हो गई। दलाल महिला वनीता ने डील के मुताबिक युवक से दो लाख रुपए लिए। बाद में वनीता और दोनों अन्य महिलाएं बांसवड़ा से चली गईं।

कुल देवता के दर्शन को गया परिवार
सामाजिक रीति रिवाज से परिवार ने उमेश और मनीषा का 3 मई को मंदिर में विवाह कराया। अगले दिन कुल देवता को धोंक देने के लिए गए। 5 मई को परिवार थका हुआ घर पहुंचा, जहां सभी थकान मिटाने के लिए सो गए। तभी लुटेरी दुल्हन मनीषा ने मंगलसूत्र, पायल जैसे जेवरों के साथ नगदी पर हाथ साफ किया और सभी को सोता हुआ छोड़कर भाग गई। पीड़ित ने बताया कि उसने लड़की के अलावा सभी दलालों से भी संपर्क किया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला।
पुलिस का ऐसा जवाब
मामले में कोतवाल CI रतन सिंह ने बताया कि पीड़ित युवक ने दलाल सहित लुटेरी दुल्हन के खिलाफ शनिवार को रिपोर्ट दी। केस दर्ज कर मामले की जांच HC भूल सिंह को सौंपी गई है।