4 नए मरीज:बैंगलुरु से शहर लौटे युवक ने बुखार के दस दिन बाद कराई जांच

बांसवाड़ाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • अगरपुरा से पीहर सागवाड़ा गई महिला और उसके बेटा-बेटी संक्रमित

जिले में मंगलवार काे काेराेना पाॅजिटिव के 4 नए मामले सामने आए हैं। इसमें एक महिला और उसके बेटा-बेटी के सैंपल सागवाड़ा में लिए गए थे। जहां उनकी रिपाेर्ट पाॅजिटिव आई। वहीं एक शहर के अंबामाता मंदिर क्षेत्र में रहने वाले युवक की रिपाेर्ट एमजी अस्पताल की जांच में पाॅजिटिव आई। मंगलवार को सागवाड़ा क्षेत्र से कुल आठ लोग पॉजिटिव आए हैं, जिनमें 3 बांसवाड़ा जिले के अगरपुरा गांव के हैं।

सागवाड़ा बीसीएमओ डॉ. पंकज खांट ने बताया कि सागवाड़ा के प्रताप कॉलोनी निवासी पिता-पुत्र 25 जून को किर्गिस्तान रसिया से आए थे। बेटा वहां से एमबीबीएस कर रहा है। पिता-पुत्र दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। फिलहाल दोनों माणकपुरा कोविड केयर सेंटर पर इलाजरत हैं। इनके घर 3 जुलाई को बांसवाड़ा से मेहमान आई बहन और उसकी 16 वर्षीय बेटी और 14 वर्षीय बेटे के सैंपल लिए गए थे। मंगलवार को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उन्हें माणकपुरा काेविड सेंटर में शिफ्ट किया गया है।

इधर, बैंगलुरु से 1 जुलाई काे आया युवक 8 दिन से था बीमार: डाॅ. अश्विन पाटीदार ने बताया कि युवक बैंगलुरु में आईटी कंपनी में काम करता है। वह 1 जुलाई काे बैंगलुरु से अहदाबाद और वहां से शाम काे 4 बजे बांसवाड़ा पहुुंचा था। वाे अस्पताल पहुंचने के बजाय सीधे घर पर ही क्वारेंटाइन रह रहा था। युवक 28 जून से बीमार चल रहा था। उसे बुखार के साथ सर्दी जुकाम के भी लक्षण थे।

मंगलवार सुबह उसकी तबीयत ज्यादा खराब हुई ताे वाे इलाज के लिए अस्पताल आया था। सुबह ही उसके सैंपल लिए थे। शाम काे उसकी रिपाेर्ट पाॅजिटिव आई। डाॅ. जिमेश पंड्या ने बताया कि युवक क्वारैंटाइन रहने के कारण दूसराें के संपर्क में नहीं आया है, फिर भी उसके परिवार के लाेगाें के सैंपल लिए हैं।

कलेक्टर पहुंचे काेराेना लैब, अब रोजाना 250 सैंपल लेंगे

कलेक्टर अंकित कुमार सिंह मंगलवार काे एमजी अस्पताल पहुंचे। यहां आईसीयू और ओपीडी का जायजा लेने के बाद काेराेना सैंपलिंग के लिए बनाई गई लैब की व्यवस्था देखी। कलेक्टर ने पीएमओ डाॅ. एनएल चरपेटा से सैंपलिंग बढ़ाने काे कहा। कलेक्टर ने मौजूदा संसाधनों पर रोजाना सैंपल बढ़ाकर 250 तक करने और रिपोर्ट रोजाना सुबह 10 बजे तक देने के निर्देश दिए।

साथ ही ब्लॉक स्तर से भी सैंपल संग्रहित करने के निर्देश दिए। इससे पहले वार्ड में निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने अस्पताल में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने के भी निर्देश दिए। पीएमओ डाॅ. नंदलाल चरपाेटा ने कहा कि सैंपलिंग बढ़ा दी जाएगी। जिससे की काेराेना संदिग्धों की जल्द पहचान करने में मदद मिल सके। इस दौरान अतिरिक्त जिला कलेक्टर नरेश बुनकर भी माैजूद रहे।

खबरें और भी हैं...