पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आवेदन:भूंगड़ा में मकर सक्रांति के चौपड़ा वाचन कार्यक्रम पर इस बार संशय की स्थिति

बांसवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • संक्रमण के चलते समिति जिला प्रशासन के पास स्वीकृति के लिए करेगी आवेदन

जिले के माही बांध से समीप स्थित भूंगड़ा कस्बे में परंपरागत तरीके से पिछले 130 सालाें से जारी मकर संक्रांति के चौपड़ा वाचन कार्यक्रम पर इस बार संशय की स्थिति बनी हुई है। चौपड़ा वाचन करने वाले पंडित दक्षेश पंड्या ने भविष्यवाणी चौपड़ा वाचन कार्यक्रम के मद्देनजर चौपड़े का निर्माण कर दिया है। अब परंपरा के अनुसार भूंगड़ा में मकर संक्रांति पर वाचन कार्यक्रम स्थल पर करना है। लेकिन काेराेनाकाल में भीड़ पर पाबंदी के कारण संशय है कि चौपड़ा वाचन कार्यक्रम हो पाएगा या नहीं।

पं. दक्षेश पंड्या ने बताया कि व्यवस्था समिति के अध्यक्ष सोहनलाल पटेल और सर्व समाज के पदाधिकारियों से इसे लेकर चर्चा की गई। इसमें निर्णय लिया गया कि समिति की ओर से उपखंड अधिकारी घाटोल और जिला कलेक्टर को पत्र देकर कोविड 19 के नियमाें के अनुरूप स्वीकृति दिए जाने के लिए आग्रह किया जाएगा। कार्यक्रम में मास्क पहनकर आना अनिवार्य करेंगे और साेशल डिस्टेंसिंग की पालना की जाएगी। पटेल ने बताया कि ये तभी संभव होगा जब पहले परंपरागत चौपड़ा वाचन कार्यक्रम रखे जाने की स्वीकृति जिला प्रशासन से मिल जाए।

क्योंकि इस बार कोरोना के कारण लोगों के स्वास्थ्य की रक्षा पहली प्राथमिकता है और बाकी सब गौण है। उल्लेखनीय है कि पंडित दक्षेश पंड्या के पिता, दादा, परदादा भूंगड़ा में मकर संक्रांति पर भविष्य चाैपड़ा वाचन पिछले 130 से करते आए हैं और चाैपड़ा वाचन सुनने बांसवाड़ा जिले के अलावा मध्य प्रदेश और गुजरात राज्य के क्षेत्राें से भी लाेग यहां बड़ी संख्या में आते हैं। यहां पर हजारों की संख्या में भीड़ आती है इसलिए इस बार कोरोना संक्रमण में राज्य सरकार द्वारा जारी गाइड लाइन की पालना करना जरूरी है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें