पतंगबाजों को राहत:आज उत्तरायण होंगे सूर्यदेव, कल मलमास खत्म, 16 से सावे शुरू

बांसवाड़ा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कागदी पिकअप वियर में सूर्याेदय के समय छाई लालिमा - Dainik Bhaskar
कागदी पिकअप वियर में सूर्याेदय के समय छाई लालिमा

शुक्रवार को मकर संक्रांति का पर्व मनाया जाएगा। आसमान में पतंगों के साथ ही दिनभर दानपुण्य का दौर भी चलेगा। मकर संक्रांति पर सूर्य देव उत्तरायण में जाएंगे। उत्तरायण का महत्व हिंदू धर्म में विशेष है और इस दिन लोग गंगा स्नान करते हैं। इस दिन सूर्य देव की खास पूजा की जाती है। मौसम विभाग के मुताबिक इस दिन मौसम साफ रहेगा। वैज्ञानिक हरगिलास ने बताया कि दिनभर औसतन 10 से 14 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चलेगी। जो उत्तर और दक्षिण से चलेगी।

दिन में अच्छी धूप रहेगी। वहीं गुरुवार को तापमान में 1 डिग्री सेल्सियस गिरावट देखने को मिली। जहां बुधवार को अधिकतम 21.1 डिग्री और न्यूनतम 07 डिग्री रहा तो वहीं गुरुवार को अधिकतम 20.7 डिग्री और न्यूनतम में 6.0 डिग्री तापमान रिकॉर्ड किया गया। उत्तरायण के साथ ही 15 जनवरी से मलमास खत्म होगा। इसके बाद से सावे शुरू हो जाएंगे।

भास्कर अपील- चायनीज मांझे की डोर का इस्तेमाल न करें, क्योंकि यह आपके और पक्षियों के लिए खतरनाक

पतंग उड़ाने का समय: कलेक्टर ने सिंथेटिक या प्लास्टिक मांझे और चाइनीज मांझे पर प्रतिबंध लगाया है। पक्षियों को बचाने के लिए सुबह 6 से 8 बजे और शाम 5 से 7 बजे तक पतंग उड़ाने पर रोक लगाई गई। दुकानदार इस तरह के मांझों को बेचते पाया गया तो कार्रवाई की जाएगी। यह आदेश 31 जनवरी, 2022 तक प्रभावी रहेगा।

घायल पक्षियों के इलाज के लिए कुशलबाग मैदान में सुबह 10 से शाम 5 बजे तक कैंप लगाएंगे
पतंगबाजी के दैारान पक्के धागों से जख्मी हुए पक्षियों के निशुल्क उपचार के लिए पशुपालन विभाग और उत्सव फाउंडेशन के संयुक्त तत्वावधान में कुशलबाग मैदान में कैंप लगाया जाएगा। पशुचिकित्सा दल सुबह 10 से शाम 5 बजे तक मौजूद रहेंगे। इसके बाद घायल पक्षियों का उपचार दाहाेद रेड पर स्थित बहुउद्देशीय पशु चिकित्सालय में किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...